मध्यप्रदेश

किसने कहा- गोडसे आज़ाद भारत का पहला आतंकवादी

किसने कहा- गोडसे आज़ाद भारत का पहला आतंकवादी

जैसा कि सबको ज्ञात हे कि पिछले कुछ समय से महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को कुछ देशविरोधी तत्व सोशलमीडिया से लेकर मेनस्ट्रीम मीडिया तक में महिमामंडित करने से गुरेज़ नहीं कर रहे हैं. आखिर ऐसा क्या हो गया है, कि अचानक से संघ और अन्य दक्षिणपंथी समूहों से जुड़े लोग एकाएक इस हत्यारे का मंदिर भी बनवाने में नहीं शर्माए.
ग्वालियर शहर में हिंदू महासभा ने अपने कार्यालय में नाथूराम गोडसे का मंदिर बनाया हे जिस पर ख़ासा विरोध हो रहा है. हर तरफ इस देशविरोधी कृत्य की भारी निंदा की जा रही है. आखिर कोई कैसे बापू के हत्यारे का महिमामंडन कर सकता है.

पोलिटिकल एक्टिविस्ट अब्बासहफीज़ खान

उसी विरोध की कड़ी में एक और कड़ी उस वक़्त जुड़ गई है, पलिटिकल ऐक्टिविस्ट अब्बास हफ़ीज़ ने नाथूराम गोडसे के मंदिर का विरोध करते हुए नाथूराम गोडसे को आज़ाद भारत का पहला आतंकवादी कह कर कुछ लोगों को नाराज़ कर के उनकी फ़र्ज़ी देशभक्ति को बेनक़ाब किया है. अब्बास हफीज़ खान ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए नाथूराम गोडसे को आज़ाद भारत का पहला आतंकवादी करार दिया है.
गांधी जी का हत्यारा नाथूराम गोडसे

उन्होंने अपने वीडिओ में कहा कि हाफ़िज़ सईद और अजमल आमिर कसाब जैसे आतंकवादी गोडसे का मंदिर बनाने की कोशिश होती है, और पुलिस कोई कार्यवाही नहीं करते. प्रशासन खामोश रहता है, बापू के हत्यारे के मंदिर का निर्माण करने वाले संगठन हिंदू महासभा पर प्रतिबन्ध लगाकर उसे आतंकी संगठनों की श्रेणी में क्यों नहीं डाला जाता ?
ज्ञात हो कि नाथुराम गोडसे पहले आरएसएस और फिर हिंदूमहासभा से जुड़ा हुआ था. महात्मा गांधी की हत्या करने पर दक्षिणपंथि समूह उसका महिमामंडन करते आये हैं. वो गान्धी जी की हत्या को वध कहकर प्रचारित करने का देशविरोधी कृत्य करते हैं.

अब्बास हफीज़ खान का यह वीडिओ बहुत वायरल हो रहा है –


 

Avatar
About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *