गांधी हत्या केस में गोरखपुर मठ के इस महंत का क्या रोल था ?

गांधी हत्या केस में गोरखपुर मठ के इस महंत का क्या रोल था ?

वर्ष 1934 में जब दिग्विजयनाथ, नाथ संप्रदाय के महंत बने, तो मंदिर कट्टर हिंदुत्व की राजनीति केन्द्र बन गया। 1894 में जन्‍मे दिग्विजयनाथ का पालन पोषण मठ में ही हुआ था, महंत बनने के तीन साल के बाद ही 1937 में वे हिंदू महासभा के प्रमुख चुन लिए गए थे। कहा जाता है कि महासभा […]

Read More
 जब द.अफ़्रीका में महात्मा गांधी ने नागरिकता कानून का किया था विरोध

जब द.अफ़्रीका में महात्मा गांधी ने नागरिकता कानून का किया था विरोध

वर्ष 1906  में, दक्षिण अफ्रीका की सरकार ने एक नया कानून बनाया जिसमे भारतीय मूल की आबादी को पंजीकृत कराना अनिवार्य किया गया था। यह एक प्रकार का नागरिकता के कानून जैसा ही था। गांधी जी ने समानता के अधिकार के उल्लंघन के विंदु पर उस कानून के विरोध करने का निश्चय किया। सत्याग्रह की […]

Read More
 किसने कहा- गोडसे आज़ाद भारत का पहला आतंकवादी

किसने कहा- गोडसे आज़ाद भारत का पहला आतंकवादी

जैसा कि सबको ज्ञात हे कि पिछले कुछ समय से महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को कुछ देशविरोधी तत्व सोशलमीडिया से लेकर मेनस्ट्रीम मीडिया तक में महिमामंडित करने से गुरेज़ नहीं कर रहे हैं. आखिर ऐसा क्या हो गया है, कि अचानक से संघ और अन्य दक्षिणपंथी समूहों से जुड़े लोग एकाएक इस हत्यारे […]

Read More
 स्मृति : भारत छोड़ो आंदोलन (9 अगस्त 1942)

स्मृति : भारत छोड़ो आंदोलन (9 अगस्त 1942)

आज नौ अगस्त … भारत छोडो आन्दोलन की स्मृति साथ ले आया है. यह वही आन्दोलन था जिसने भारत की स्वतंत्रता सुनिश्चित कर दी. चूँकि मैं बलिया से हूँ और इस आन्दोलन ने बलिया को पन्द्रह दिन तक अंग्रेज प्रशासन से पूर्ण आज़ादी दिला दी. बाद में अंग्रेज सेना ने फिर से लौटकर कब्ज़ा किया। […]

Read More