बॉल टेम्परिंग के केस में फंसने के बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान और उपकप्तान दोनों को ही पद से हटा दिया गया है. साऊथ अफ्रीका के दौरान खेले जा रहे मैच के दौरान क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने तुरंत फैसला लेते हुए मैच के दौरान ही अपने कप्तान और उपकप्तान को बदल दिया है.
साउथ अफ्रीका के बीच तीसरे टेस्ट में बॉल टेम्परिंग विवाद को लेकर कंगारू टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ और उप कप्तान डेविड वॉर्नर ने रविवार को इस्तीफा दे दिया. इस फैसले के पीछे ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल के दखल को मुख्य वजह बताया जा रहा है.
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने मीडिया रिलीज कर इस बात की जानकारी दी. ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड के जेम्स सदरलैंड ने कहा, ‘हमारे खिलाड़ियों ने जो किया है वह बिल्कुल भी स्वीकार करने लायक नहीं है. मेरी तरह हर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट फैंस खिलाड़ियों द्वारा किए गए इस हरकत का जवाब चाहते हैं.
गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी के दौरान तीसरे दिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी कैमरन बैन्करॉफ्ट को गेंद की वास्तविक स्थिति से छेड़छाड़ करते हुए पाया गया था. वीडियो में साफ़ नजर आ रहा था कि वे गम को अपनी पैन्ट में छिपाने का प्रयास कर रहे थे। इसके बाद क्रिकेट जगत में हर तरफ ऑस्ट्रेलियाई टीम की आलोचना होने लगी थी.
आईसीसी के नियमों के मुताबिक, गेंद से छेड़छाड़ लेवल-2 का अपराध है जिसमें खिलाड़ी पर 100 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगता है और साथ ही चार निगेटिव पॉइंट्स तक खिलाड़ी के हिस्से आ सकते हैं जो एक टेस्ट मैच के बैन के लिए काफी हैं.
इंटरनैशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ और ओपनर बल्लेबाज कैमरन बैनक्रॉफ्ट को तहत दोषी पाया है। आईसीसी ने जहां कप्तान स्मिथ को एक मैच के लिए सस्पेंड किया है और 100% मैच फीस का जुर्माना लगाया है, वहीं ओपनर बल्लेबाज कैमरन बैनक्रॉफ्ट पर मैच फीस का 75% का जुर्माना लगाया गया है। उन्हें 3 डीमेरिट पॉइंट भी दिया गया।

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *