भोपाल से भाजपा सांसद और मालेगांव धमाकों की आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के द्वारा संसद में नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहना भारी पड़ गया है। चारों तरफ से आलोचना होने के बाद उन्हें संसद की रक्षा समिति से हटा दिया गया है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस बयान के संबंध में कहा है, नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहे जाने की बात तो दूर हम उन्हें देशभक्त मानने की सोच को ही condemn करते हैं। महात्मा गांधी हम लोगों के आदर्श हैं। वे पहले भी हमारे मार्गदर्शक थे और भविष्य में भी मार्गदर्शक रहेंगे। उनकी विचारधारा उस समय भी प्रासंगिक थी, आज भी है और आगे भी रहेगी।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट किया है – आतंकवादी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को देशभक्त कहा । यह भारत की संसद के इतिहास में एक दुखद दिन है।