लखनऊ: मुलायम सिंह यादव के कुनबे की जंग थमने का नाम नहीं ले रही है. समाजवादी पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने अखिलेश के करीबी तीन एमएलसी और चार युवा संगठनों के अध्यक्षों को आज पार्टी से निकाल दिया. उन पर यादव परिवार की जंग के दरमियान मुलायम के खिलाफ बयानबाजी करने का इल्जाम है. निकाले गए नेताओं ने मुलायम सिंह को अपना नेता मानने से इनकार कर दिया है, तो कुछ ने शिवपाल को.
पार्टी से निकाले गए युवा नेता अपने समर्थकों के साथ ”यह जवानी है कुर्बान, अखिलेश भैया तेरे नाम” के नारे लगा रहे हैं. निकाले गए नौजवान बगावत के मूड में हैं. कुछ ऐसे हैं जो मुलायम सिंह को ही नेता मानने से इनकार कर रहे हैं. समाजवादी युवजन सभा के प्रदेश अध्यक्ष कहते हैं ”नेता एक बार चुना जाता है. हम नौजवानों के नेता अखिलेश यादव हैं और रहेंगे. मुलायम सिंह हमारे नहीं अखिलेश भैया के नेता हैं.”
मुलायम सिंह के निर्देश पर अखिलेश के करीबी जिन सात नेताओं को आज पार्टी से बर्खास्त किया गया उनमें तीन एमएलसी सुनील सिंह साजन, आनंद भदौरिया और संजय लाथार के अलावा मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के प्रदेश अध्यक्ष मोहम्मद ऐबाद, समाजवादी युवजन सभा के प्रदेश अध्यक्ष ब्रिजेश यादव, मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष गौरव दुबे और समाजवादी छात्र सभा के प्रदेश अध्यक्ष दिग्विजय सिंह शामिल हैं. इन नेताओं की बर्खास्तगी के बाद शिवपाल यादव ने मीडिया से कहा ”समाजवादी पार्टी में जो भी अनुशासनहीनता करेगा और जो भी गलत काम करेगा, अवैध काम करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी.

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *