राजस्थान

सांप्रदायिकता आपको मानव बम में बदल देती है

सांप्रदायिकता आपको मानव बम में बदल देती है

राजस्थान के राजसमंद जिले में कलेक्ट्रेट से महज सात सौ मीटर दूर एक युवक ने अपने साथ काम करने वाले व्यक्ति की गैती से बर्बर हत्या कर दी और हत्या करने के बाद उसका शव जलाया और इस पूरे घटनाक्रम का लाइव वीडियो बनाया और वीडियो को वायरल भी किया.
अभियुक्त शंभूलाल ने हत्या के वीडियो के अलावा अपने दो और वीडियो साझा किए थे जिनमें वो लव जिहाद और राष्ट्रवाद की बातें कर रहा था. इस घटना के बाद शहर में तनाव फैल गया. सभी की जुबां पर एक ही घटना की चर्चा है. चार जिलों की पुलिस राजसमंद में तैनात कर दी गई है, जिससे किसी भी परिस्थिति से निपटा जा सके. इसके लिए मोबाइल व इंटरनेट सेवाए बंद कर दी गई है.

आईजी रेंज उदयपुर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना को रोकने के लिए शहर में अतिरिक्त पुलिस का जाप्ता तैनात किया गया है. शहर में पुलिस का दल लगातार गश्त कर रहा है. इसके अलावा सभी थानों की पुलिस को अलर्ट रहने को कहा गया है. आमजन की हर  गतिविधियों पर भी निगरानी रखी जा रही है.

क्या है पूरा मामला

राजसमंद में बुधवार को शंभूलाल रैगर ने 50 वर्षीय अफराजुल उर्फ भुट्टू को दोस्ती के नाम पर अपने साथ स्कूटर पर बैठा कर लाया और कलेक्ट्रेट से महज 700 मीटर दूर अपने खेत में पेड़ों के बीच एक सूने स्थान पर गैंती से उसकी बर्बर तरीके से हत्या कर दी. हत्या के बाद शभ्मूलाल ने उस पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी. इस पूरे घटनाक्रम एक वीडियो में  भी कैद किया और फिर इसे वायरल कर दिया गया.
इस पूरे मामले पर राजसमंद एसपी मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि, पुलिस को सिर्फ एक युवक का अधजला शव मिलने की सूचना मिली थी, जिस पर पुलिस अधिकारी पहुंचे तो खेत के कच्चे रास्ते मे क्षत-विक्षत हालत मे शव देखा. तो  मौका-ए-वारदात के हालात देखकर पुलिस को मामला हत्याकर शव को जलाने जैसा लगा. फिर मौके पर एफएसएल टीम, डॉग स्क्वाड, एमओबी टीम को बुलवाया गया. पुलिस ने मृतक की शिनाख्त के लिये आसपास के लोगों को बुलवाया जिस पर कुछ लोगों ने इसकी पहचान मोहम्मद अफराजुल के नाम से की और बताया कि, अफराजुल 20 साल से राजसमंद में भवन निर्माण ठेकेदारी करता है और पश्चिम  बंगाल के सैयदपुर कालीचक मालदा हाल धोइंदा में रहता है. अफराजुल उर्फ भुट्टू (50) का शव 80 प्रतिशत तक जला मिला था.
इसी बीच शहर में यह वीडियो वायरल हो गया और मामला दूसरी ही दिशा में चला गया. सरकार की ओर से आरोपी को पकडने के लिए एसआईटी का गठन किया गया. शंभुलाल की रात भर से तलाश की जा रही थी. तभी  तलाशी के दौरान एक और वीडियो सामने आया जिसमें उसने एक मंदिर में सरेंडर करने की बात कहीं. आज सुबह शंभुलाल को मंदिर पहुंचने से पहले ही पकड़ लिया गया और इसके साथ छह अन्य संदिग्धो को हिरासत में लिया गया है और इनसे पूछताछ की जा रही है.

क्या है वीडियो में

वीडियो में शंभूलाल लव जिहाद, देशभक्ति सहित कई मुद्दों पर लंबा चोडा भाषण देता दिख रहा है और वीडियो में वह कह रहा है कि वह अपनी बहिन की बेइज्जती का बदला ले रहा है. वीडियो में बच्ची भी दिख रही है और उसने खुद ही आत्मसमर्पण करने की बात भी कही थी.

राजस्थान राज्य मानवाधिकार आयोग

इस मामले में राजस्थान राज्य मानवाधिकार आयोग ने भी संज्ञान लिया है और पुलिस प्रशासन से पूरी रिपोर्ट मांगी है. आयोग के अध्यक्ष जस्टिस प्रकाश टाटिया ने बर्बर घटना बताते हुए मामले की सुनवाई 19 दिसम्बर तय की है. टाटिया ने कहा कि ये मानवधिकार की हत्या नहीं, बल्कि यह मानवता की मौत है. उन्होंने कहा, “जानवर भी सोचते होंगे कि वे पशु होकर इंसान से ज्यादा अच्छे हैं. ऐसा घृणित कृत्य मानव ही कर सकता है, पशु नहीं.”

पश्चिम  बंगाल के मुख्यमंत्री

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राजस्थान में हुई पश्चिम बंगाल के मज़दूर की हत्या की कड़ी आलोचना करते हुए, ट्वीट कर कहा, “हम राजस्थान में बंगाल के मज़दूर की जघन्य हत्या की कड़ी आलोचना करते हैं. लोग इतने अमानवीय कैसे हो सकते हैं? दुखद.”

Avatar
About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *