क्राईम

यूपी में दूसरी कक्षा की छात्रा के साथ दुष्कर्म

यूपी में दूसरी कक्षा की छात्रा के साथ दुष्कर्म

पुरे विश्व में महिलओं के साथ छेड़-छड़ और दुराचार के मामले तेजी से बदते ही जा रहे है, अगर भारत में देखे तो और भी बुरा हाल है
आये दिन अखवारों  और न्यूज चैनलों पर सुनने और देखने को मिल ही जाता की कही ना कही से और जो दब जाते है वो अलग.

सांकेतिक फोटो

ऐसा ही मामला उतरप्रदेश के हिंडन एयरबेस स्थित केंद्रीय विद्यालय-दो में दूसरी कक्षा की छात्रा के साथ छठी कक्षा के छात्र ने दुष्कर्म किया. घटना के बाद बच्ची ने दो शिक्षिकाओं से शिकायत की थी. आरोप है कि दोनों ने बच्ची को डांटकर मामले को दबा दिया. रक्तस्नाव होने पर बच्ची के परिजनों को घटना के बारे में पता चला. रविवार को परिजनों ने साहिबाबाद थाने में एफआइआर दर्ज कराई है।
बच्ची का परिवार गाजियाबाद के नेहरू नगर इलाके में रहता है। बच्ची दूसरी कक्षा में पढ़ती है। परिजनों के मुताबिक बीती 10 नवंबर को स्कूल बस बच्ची को लेकर स्कूल गई थी, लेकिन छोड़ने नहीं आई. छुट्टी होने के बाद उनकी बेटी को छठी कक्षा में बैठा दिया गया था. बच्ची बाथरूम करने गई तो उसके लिए उसके पीछे छठी कक्षा में पढ़ने वाला एक छात्र भी चला गया. आरोप है कि छात्र ने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया. बच्ची के चीखने पर छात्र वहां से भाग गया परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात छात्र पर दुष्कर्म और पॉक्सो की धारा लगाई है.
परिजनों का आरोप,शिक्षिकाओं ने दबाया मामला
परिजनों का आरोप है कि बच्ची रोती हुई जब एक शिक्षिका के पास गई और घटना के बारे में बताया, तो  शिक्षिका ने कार्रवाई करने के बजाय उल्टा बच्ची को डांटकर चुप करा दिया. और  शिक्षिका ने मामले को दबाते हुए बच्ची को चुप रहने और किसी से कुछ न बताने की हिदायत दे दी.
जब शुक्रवार को रक्तस्राव होने पर बच्ची से परिजनों ने पूछा तो बच्ची ने आपबीती बताई. परिजन बच्ची को एक अस्पताल में ले गए, जहां पर डॉक्टरों ने यौन शोषण का मामला बताया. पुलिस ने दोनों शिक्षिकाओं के भी खिलाफ मामला दर्ज किया है.
एसएचओ राकेश कुमार सिंह ने बताया है कि बच्ची के परिजनों की शिकायत पर मामले में एफआइआर दर्ज कर ली गई है. बच्ची को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है. बच्ची को आरोपी छात्र का नाम नहीं पता है. सोमवार को छात्र की पहचान की जाएगी. साथ ही शिक्षिकाओं से भी मामले में पूछताछ की जाएगी.
जबकि प्रधानाचार्या ने एसी किसी घटना से अनभिज्ञता जताई और कहा कि अगर यदि ऐसी घटना हुई है तो जांच की जाएगी. जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

Avatar
About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *