नई दिल्ली –  6 सितंबर 2018, सोसाइटी फॉर सोसाइटी हारमनी संस्था (एसयू) की गवर्निंग बॉडी की एक बैठक गुरुवार को गांधी शांति प्रतिष्ठान, नई दिल्ली में आयोजित की गई जिसमें प्रोफेसर आनंद कुमार को सर्वसम्मति से सोसायटी फॉर कम्युनल हारमनी संस्था का अध्यक्ष चुना गया।प्रो,आनंद कुमार, देश के जाने माने समाजशास्त्री हैं और अकादमिक क्षेत्र में कई उच्च पदों चुके हैं। पिछले महीने संस्था के अध्यक्ष श्री कुलदीप नैय्यर का निधन हो जाने कारण आनद कुमार को उनकी जगह संस्था का नया अध्यक्ष चुना गया है। सोसायटी फॉर कम्युनल हारमनी संस्था का गठन 1989 के भागलपुर दंगो के तुरंत बाद 1990 किया गया था।

गाँधीवादी स्वतंत्रता सेनानी और पूर्व सांसद तथा राजयपाल डॉ बीएन पांडे की पहल पर मौलाना सैयद अबुल हसन अली नदवी उर्फ मौलाना अली मिया और वरिष्ठ समाजवादी नेता श्री सुरेंद्र मोहन ने देश के विभिन्न राजनीतिक दलों के शीर्ष नेताओं, बुद्धिजीवियों, मीडिया व्यक्तित्वों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, धार्मिक नेताओं से बातचीत करके इस संस्था का गठन किया था।

मार्च 1990 में नई दिल्ली में हुए एक सम्मेलन मैं इस संस्था को सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ने और विभिन्न समुदायों के बीच समानता, शांति और समतावाद को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय स्तर का संगठन बनाने का संकल्प किया गया था। सोसायटी फॉर कम्युनल हारमनी संस्था के अबतक 6 अध्यक्ष रह चुके हैं इनमें डॉ बीएन पांडे, श्री पी एन हक्सर, श्री सादिक अली, श्री रबी रे, श्री सोमनाथ चटर्जी और श्री कुलदीप नायर के नाम उल्लेखनीय हैं। इस संस्था ने सम्मेलन और संगोष्ठियों के माध्यम से राष्ट्र निर्माण और सांप्रदायिक सौहार्द के लिए अहम भूमिका निभाई है।