कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi) पर जमकर निशाना साधा है, उन्होंने प्रधानमंत्री से पुछा कि क्या आपको बिलकुल भी शर्म नहीं आती. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है –
प्रधानमंत्री जी, अमेठी की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री ( Ordnance factory Amethi  ) का शिलान्यास 2010 में मैंने खुद किया था. पिछले कई सालों से वहां छोटे हथियारों का उत्पादन चल रहा है. कल आप अमेठी गए और अपनी आदत से मजबूर होकर आपने फिर झूठ बोला. क्या आपको बिल्कुल भी शर्म नहीं आती?


दरअसल 3 मार्च 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तरप्रदेश ( Uttarpradesh )के अमेठी में एक रैली को संबोधित करने गए थे उस दौरान पीएम मोदी ने अमेठी में कुछ योजनाओं का ऐलान और कुछ का उदघाटन किया था. अमेठी न सिर्फ़ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का गढ़ है, बल्कि गांधी परिवार के दबदबे वाली सीट है. इसलिए इस सीट की अहमियत खासी बढ़ जाती है. 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने स्मृति ईरानी (Smriti Irani ) को राहुल गांधी के ख़िलाफ़ उम्मीदवार बनाया था.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेठी में अपनी सभा के दौरान सिर्फ और सिर्फ़ गांधी परिवार को निशाने पर लिया. इसी दौरान पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि अमेठी में हथियारों के निर्माण की फैक्ट्री तो बन गई थी, पर इसमें हथियार निर्माण का कार्य शुरू नहीं हो पाया था. जिसके जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष ( indian national congress president ) राहुल गांधी ने ट्वीट किया था.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान 1998 में अटल बिहारी वाजपेयी ( Atal Bihari vajpai ) के साथ अमेठी की एक सभा की याद दिलाया कि तब भी बारिश हुई थी और आज भी मेघराज मेरे स्वागत के लिए तैयार हैं. यह कहते वक्त मोदी अमेठी के लोगों से अपने पुराने रिश्ते की याद दिला रहे थे.
राहुल गांधी के इस ट्वीट के बाद कई ट्वीट अमेठी कि विकास और वाराणसी के बीच तुलना करते हुए ट्वीटर पर दिखाई दिए. जिसमें दोनों के संसदीय क्षेत्रों में हुए कार्यों की तुलना की गई थी.
Geet V नामक ट्वीटर यूज़र ने अमेठी से IIT को इलाहाबाद शिफ्ट करने की ख़बर का link शेयर करते हुए पुछा कि आखिर क्यों 2014 के बाद से अमेठी के विकास प्रोजेक्ट रोके गए?

About Author

Team TH