राजस्थान के अलवर जिले गाय की तस्करी और फिर तस्करी के आरोप में आम किसानों की मौत का सिलसिला रुक नहीं रहा. आये न आये दिन कोई मामला ध्यान में आ ही जाता है. अभी हाल ही में एक ट्रक के ड्राईवर पर पुलिस ने अँधाधुंध फायरिंग की, जिसके बाद उसकी मौत हो गयी थी. गौ तस्करी की वजह से इस क्षेत्र में आये दिन कोई न कोई अल्पसंख्यक समुदाय के विरुद्ध घटना हो रही है. इसिलए अलवर जिले के मुस्लिम बहुल मेव पंचयात ने गाय तस्करी को रोकने के लिए आगे आने का फैसला किया है साथ ही लोगो से सहयोग की अपील की है.

Image result for gau taskari
प्रतीकात्मक तस्वीर

जिला मेव के पंचयात संरक्षक शेर मोहम्मद ने कहा की, मैं अलवर जिले के हर आदमी से अपील करता हु की जो गौ तस्करी करता है और जो इसमें लिप्त है, उसका विरोध करे. हरियाणा के मेवात लोगो से आग्रह करूँगा कि मेहरबानी करके वहां के लोग गौ तस्करी पर लगाम लगाए. हम मेव समाज के इस तरह की घटनाओ से शर्मिंदा है, अगर इस तरीके की घटनाए भविष्य में नहीं रूकती है तो हम हरियाणा के गाँव-गाँव में जाकर आवाह्न करेंगे, फिर भी अगर हरियाणा के लोग गौ तस्करी करेंगे तो हम उनके विरोध में आगे आयेगे.
गौरतलब है की पिछले दिनों में अलवर में एक मुद्दा काफी चर्चा में रहा था और पुलिस की गोलियों से एक गौ तस्कर की मौत हो गयी थी. पोस्टमार्टम में पाया गया था की उसकी मौत गोली लगने से हुई थी. और वह गौ तस्कर हरियाणा का रहने वाला था. इस घटना के विरोध में लोगों ने मुआवज़े की मांग की थी. जिसे सरकार ने अनसुना कर दिया था.
मेव समाज के सरंक्षक ने कहा की पुलिस ने सीधा आरोपी का एनकाउंटर किया था बल्कि ऐसा  करने की बजाय पुलिस कोई दूसरा हथकंडा अपनाती तो बेहतर होता. पुलिस गाड़ी के टायर पर गोली मारकर उसे रोक सकती थी बजाय उसके गोली मरे और वह लड़का निर्दोष था, उसके परिवार वाला कोई भी इस धंधे में शामिल नहीं थे.

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *