आईपीएल 11 के लिए नीलामी के दौरान गुजरात के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट को जबर्दस्‍त कीमत मिली. अपनी धीमी गति की गेंदों के लिए मशहूर भारत के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट पर आईपीएल नीलामी में पैसों की बरसात हो गई.
 
इस साल की आईपीएल नीलामी में जयदेव उनादकट ने कीमत के मामले में सभी तेज गेंदबाजों को पछाड़ दिया है. उनके लगातार अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए राजस्थान रॉयल्स ने उनपर दाव खेला है. राजस्थान रॉयल्स ने 11 करोड़ 50 लाख में उनादकट को अपने खेमे में शामिल किया है.
आईपीएल के पिछले सीजन की बात करें तो उनादकट को कोई जानता भी नहीं था. पिछली बार राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स ने जयदेव उनादकट पर 30 लाख की बोली लगाई थी. तब किसी ने उम्मीद भी नहीं की थी कि वे दमदार प्रदर्शन करेंगे.
इस बार नीलामी के लिए जब उनादकट का नाम आया तो फ्रेंचाइजियों में उन्हें खरीदने के लिए होड़ लग गई. उनादकट को खरीदने के लिए सबसे पहले चेन्नई ने 1.5 करोड़ की बोली लगाई. नीलामी में पंजाब की टीम भी 4 करोड़ की बोली के साथ कूद पड़ी.

 क्यों लगी इतनी महंगी बोली?

  1. उनादकट की इतनी महंगी बोली की पीछे की वजह जानकारों का मानना है कि, बेहद अनुशासित होने के साथ बाएं हाथ से गेंदबाजी करना उनादकट के लिए प्‍लस पाइंट साबित हुआ. यही कारण रहा कि नीलामी ने उन्‍हें हाथोंहाथ लिया गया.
  2. उनादकट ने पिछले आईपीएल में 24 विकेट हासिल किए थे.  जिसमें एक हैट्रिक शामिल थी. जो कि दूसरे सबसे ज्यादा थे.
  3. इसके अलावा वो पिछले सीजन में उन चुनिंदा खिलाड़ियों में शामिल रहे जिन्होंने मैच में 5 विकेट भी हासिल किए.

गुजरात पोरबंदर के जयदेव दीपकभाई उनादकट को महज 20 वर्ष उम्र में देश के लिए खेलने का मौका मिल गया था. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज उनादकट ने दिसंबर 2010 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में अपने टेस्‍ट करियर का आगाज किया था. परन्तु  इस मैच में उन्‍हें 100 से अधिक रन खर्च करने के बावजूद कोई विकेट हासिल नहीं हो सका था.
इस असफलता के बाद भी जयदेव निराश नहीं हुए. उन्‍होंने अपनी गेंदबाजी में सुधार जारी रखा और जल्‍द ही अपने प्रदर्शन से हर किसी को प्रभावित करने में सफल रहे. उन्‍होंने अब तक 89 टी20 मैचों में 20.83 के औसत से 113 विकेट लिए हैं, जिसमें 25 रन देकर पांच विकेट उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा है.

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *