केंद्र सरकार में मंत्री समृति ईरानी फिर से इन्टरनेट पर यूजर्स के निशाने पर आ गई. यूजर्स ने उस खबर को फर्जी करार दिया है. दरअसल केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री ने गुरुवार (4 जनवरी, 2017) को टाइम्स ऑफ इंडिया की ‘मोदी एप्प’ की एक खबर का स्क्रीन शॉट शेयर किया था, जिसमें दावा किया गया था कि केंद्र सरकार ने ‘जोजिला पास टनल’ के निर्माण की मंजूरी दे ही है. इस टनल के निर्माण के बाद श्रीनगर से लेह की दूरी महज 15 मिनट में पूरी की जा सकेगी.

इसपर सोशल मीडिया यूजर्स का दावा है कि जिस परियोजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट ने मंजूरी दी है उसे पूर्व की मनमोहन सरकार साल 2013 में मंजूरी दे चुकी है. ये जानकारी एक न्यूज वेबसाइट के हवाले से है.

इसके बाद ट्वीटर यूजर्स ने स्मृति ईरानी को जमकर ट्रोल किया. क्योकि श्रीनगर से लेह लगभग 800 किमी है (गूगल माप के अनुसार) तो दूरी 15 मिनट में सुरंग के जरिये कैसे तय होगी? हां, ये बात अलग है कि इस टनल के बनने से कुछ दुरी जरुर कम होगी.

देखें सभी ट्वीट 

वास्तविकता क्या है?

कश्मीर बेस्ड CNN के पत्रकार के अनुसार यह दूरी अब 800 किमी है, जो इस पास के कारण घटकर 400 कीमी रह जायेगी. ना कि ये रास्ता 15 मिनट में तय होगा.