बिहार में जेडीयू और भाजपा की गठबंधन सरकार है। यहां अक्सर जेडीयू और आरजेडी विधायक अपने बयानों के कारण सुर्खियों में बने रहते हैं। ऐसे ही एक विधायक हैं जेडीयू के नरेंद्र कुमार नीरज।

भागलपुर के गोपालपुर से विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ़ गोपाल मंडल अपने अभद्र हरकत के कारण काफी ट्रोल हुए हैं। गुरुवार को पटना – दिल्ली तेजस राजधानी में सफर करते वक्त उन्होंने आपत्तिजनक व्यवहार किया। जिसके बाद यात्रियों ने उनपर अभद्र भाषा उपयोग करने का आरोप लगाया है।

क्या है मामला?

असल में गोपाल मंडल तेजस राजधानी एक्सप्रेस के A1 कोच में पटना से दिल्ली की ओर गुरुवार को सफर कर रहे थे। अपनी यात्रा के दौरान गोपाल जी ने सिर्फ अंडर गारमेंट्स ही पहन रखी थी। इस पर आपत्ति जताते हुए एक यात्री ने जब उन्हें रोका तो उन्होंने यात्री के साथ अभद्र व्यवहार किया।

 

कोच में मौजूद अन्य यात्रियों के अनुसार विधायक जी ने उस आदमी को धमकी देते हुए “देख लेने” और “गोली मारने” की बात कही। साथ ही उन्होंने गाली-गलौज भी किया।

विधायक के खिलाफ शिकायत दर्ज

गोपाल जी और यात्री के बीच जब मामला मारपीट तक पहुंचा तो वहां टीटीई और आरपीएफ के जवान आ गए। यात्री ने विधायक के खिलाफ आरपीएफ से शिकायत की। जिसके बाद विधायक जी का कोच तुरंत बदल दिया गया।

ईस्ट सेंट्रल रेलवे के सीपीआरओ ने आधिकारिक बयान देते हुए बताया, “जेडीयू विधायक गोपाल मंडल कल तेजस राजधानी ट्रेन से पटना से नई दिल्ली जाने के दौरान अंडर गारमेंट्स में घूमते हुए नजर आए। साथी यात्रियों ने विधायक के व्यवहार की शिकायत की है। आरपीएफ और टीटीई ने दोनों पक्षों को समझाकर मामला शांत करवाया।”

विपक्षी हुए हमलावर

आरजेडी विधायक तेज प्रताप यादव ने पूरे मामले पर बयान देते हुए कहा, “अगर नीतीश कुमार यह तस्वीर देख रहे हैं तो उन्हें पार्टी से तुरंत बाहर कर दें। सीएम को गोपाल जी से इस्तीफा मांग लेना चाहिए।”

वही लोक जनशक्ति पार्टी के राजनेता चिराग पासवान ने बयान देते हुए कहा, “यह बहुत ही आपत्तिजनक तस्वीर है। मुख्यमंत्री को इसपर कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए।”

मेरा पेट खराब था – गोपाल मंडल

मामला लोगों के सामने आते ही विधायक गोपाल जी ने अपने सफाई में कहा, “मेरा पेट खराब था इसलिए मैं उन कपड़ों में घूम रहा था।”इस बयान का समर्थन करते हुए कुणाल सिंह ने कहा कि, “विधायक जी अक्सर बनियान और लुंगी में बाथरूम जाते हैं। इस बार उन्हें हरबड़ी थी बाथरूम जाने की इसलिए वह लुंगी लपेटना भूल गए थे।”

विवादों से है पुराना नाता

अपने ही पार्टी के विधायक और बिहार के डिप्टी सीएम पर गोपाल जी ने एक महीने पहले आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि, “बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद एक कर संग्रह अधिकारी की तरह काम करते हैं और दुकान मालिकों से पैसा इकट्ठा करते हैं। मामले की जांच होनी चाहिए और उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए।”

मार्च के महीने में नवगछिया के शिव मंदिर में महाशिवरात्रि के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान वह महिला कलाकारों के साथ ठुमका लगाते नजर आए थे।

About Author

Ankit Swetav