दिल्ली में हुई कार्यकारिणी बैठक में आज आम आदमी पार्टी में सरकार मंत्रिमंडल में  अरविंद केजरीवाल सहित, राज्यसभा सांसद, प्रवक्ता , नेताओं सहित कई बड़े चेहरों को शामिल किया गया है। ये चेहरे दिल्ली से ही नहीं बल्कि अन्य राज्य पंजाब, गोवा, महाराष्ट्र और उत्तराखंड से भी चुने गए हैं।

राष्ट्रीय संयोजक के रूप में तीसरी बार अरविंद केजरीवाल-

बता दें कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में लगातार तीसरी बार बाजी मारने वाले अरविंद केजरीवाल फिर से राष्ट्रीय संयोजक के रूप में नियुक्त हुए हैं। इनके साथ पंकज गुप्ता को सचिव और राज्यसभा सांसद एनडी गुप्ता को पार्टी का कोषाध्यक्ष चुना गया है। यह भी बता दें कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पहले राष्ट्रीय संयोजक का कार्यकाल 3 साल तक ही रखा जाता था। लेकिन अब  पूरे 5 साल तक कर दिया गया है.।

महामारी में दिल्ली कितनी बदली केजरीवाल-

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की दो करोड़ जनता का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि देश और दुनिया पूरे 2 साल से कोरोना जैसी महामारी से जूझ रही है। 1918 में भी स्पेनिश फ्लू आया था और अब 100 साल बाद कोरोना। केजरीवाल ने कहा कि उनकी पार्टी सेवा और बलिदान के लिए बनी है। अपनी पार्टी को वीर भगत सिंह और बाबा साहेब आंबेडकर की तरह जनता के लिए हमेशा तत्पर रही है और आगे भी रहेगी।

देश के विभिन्न राज्यों को दिल्ली सरकार की बिजली व्यवस्था और शिक्षा व्यवस्था ने प्रभावित किया है। इसी आधार पर आप पार्टी अनेक राज्यों में आने वाले विधानसभा चुनाव में इसी एजेंडे के साथ उतरेगी। ‌ 

महामारी के दौरान भी दिल्ली सरकार ने दुनिया का पहला प्लाज्मा बैंक से लेकर होम आइसोलेशन की तकनीक को पूरी दुनिया में फैलाया है। यही नहीं, डॉक्टर ,नर्स, मेडिकल विभाग के अन्य कर्मचारी जो भी देश की सेवा में शहीद हुए हैं। उनके परिवार वालों को एक करोड़ की धनराशि भी दी गई थी। उम्मीद करता हूं कि तीसरी लहर ना आए।

कार्यकारिणी बैठक में सरकार मंत्रिमंडल में 34 नए सदस्य को शामिल किया गया है-

अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, इमरान हुसैन, राखी बिड़लान, आतिषी, दुर्गेश पाठक, राघव चड्ढा, एनडी गुप्ता, दिलीप पांडे, संजय सिंह, प्रीति मेनन, पंकज गुप्ता, राजेंद्र पाल गौतम, दिनेश मोहनिया,  गुलाब सिंह, कैप्टन शालिनी सिंह शामिल हैं। इसके अलावा आदिल खान, बलजिंदर कौर, अमन अरोरा, हरपाल चीमा, सरबजीत कौर, डॉक्टर अल्ताफ, आलम नीलम यादव, महेश वाल्मीकि, वेंजी वेगस, ईशुदान गांधवी, पृथ्वी रेडी, गोपाल इटालिया, भगवंत मान, सुशील गुप्ता, कर्नल अजय कोठियाल, सहित राहुल म्हामरे को सरकारी मंत्री मंडल में जगह मिली है।

विधानसभा चुनाव में पूरी तैयारी के साथ उतरेगी आप-

2021 में पंजाब ,गोवा, और उत्तराखंड सहित यूपी में विधानसभा चुनाव होने हैं। जो कि आम आदमी पार्टी के लिए बहुत ही अहम हैं और चुनौतीपूर्ण होने वाले हैं। देखना ये होगा कि यहां भी आम आदमी पार्टी अपने उसी एजेंडे को लेकर चलेगी, जिससे दिल्ली का चुनाव जीता था। या फिर प्रत्येक राज्य के लिए अलग रणनीतियां बनाएगी। 

उत्तर प्रदेश में होने वाले 2021 के विधानसभा चुनाव में सभी पार्टियां चुनावी रंग में रंग चुकी हैं। क्योंकि चुनाव आते ही हर पार्टी के नेता और दिग्गज व्यक्ति अपनी अपनी पार्टी को जिताने के लिए लोगों के बीच अनेक वादों और योजनाओं का बिगुल बजाते दिखने लग जाते हैं।

यही हाल है यूपी का। जहां पर योगी सरकार को टक्कर देने के लिए विपक्ष की पार्टियां अनेक कार्यक्रम और आयोजन करवा रही हैं। बीजेपी, बहुजन समाज पार्टी का शिक्षा सम्मेलन और सपा पिछड़ा वर्ग सम्मेलन ये सभी जनता से वोट बटोरने के तरीके ही हैं।

वहीं दिल्ली के सरकार आम आदमी पार्टी भी अपनी चाणक्य नीति के साथ ही उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उतरेगी। मीडिया की खबरों के मुताबिक यूपी में आम आदमी पार्टी की तरफ से सम्मेलन की अगुवाई रिटायर्ड आईएस  हरिशंकर पांडे करेंगे।

 

आप सरकार के गठबंधन को लेकर अफवाहें-

दिल्ली सरकार की शिक्षा नीति, बिजली, पानी और स्वास्थ्य संबंधी सभी व्यवस्थाएं विशेषकर उत्तर प्रदेश के लोगों को आकर्षित किया है और दूसरे राज्यों ने भी सरकार के कार्यों की सराहना की है। जिसे सुनकर केजरीवाल ने यह भी कहा था कि बहुत सुकून मिलता है जब आपके कार्यों की कोई तारीफ करता है। हमारी सरकार के लिए यह गर्व की बात है।

14 सितंबर को हजारों कार्यकर्ताओं के साथ आम आदमी पार्टी के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह अयोध्या में राम मंदिर में रामलला और हनुमानगढ़ी में दर्शन पूजा अर्चना के बाद तिरंगा यात्रा में शामिल होंगे। इसके साथ ही आम आदमी पार्टी किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करेगी। पहले गठबंधन को लेकर कई अटकले लगाई जा रही थी। 

About Author

Nidhi Arya