दिल्ली – ईवीएम से गिनती में वोटों का अंतर क्यों आया?

दिल्ली – ईवीएम से गिनती में वोटों का अंतर क्यों आया?

ईवीएम से शिकायतें कम नहीं हो रही हैं। चुनाव आयोग ने ईवीएम हैक कर दिखाने की जो चुनौती दी थी उसकी शर्तें ऐसी नहीं थीं कि कोई यह सब करने जाए। इसके अलावा, चुनाव आयोग का पिछला रिकार्ड भी ऐसा नहीं है कि उसपर भरोसा किया जाए। इसलिए उस चुनौती या मौके को मैं पूरा […]

Read More
 जो लोग दिल्ली चुनाव में मुफ्तखोरी की बात कर रहे हैं, उन्हे ये लेख पढ़ना चाहिए

जो लोग दिल्ली चुनाव में मुफ्तखोरी की बात कर रहे हैं, उन्हे ये लेख पढ़ना चाहिए

देश के राजनीतिक हलकों में यह शब्द पिछले तीन चार दिनों से गूंज रहा है। भाजपा के नेता, उनके समर्थक और कुछ दक्षिणपंथी झुकाव वाले पत्रकार साथी खास तौर पर इस शब्द को दिल्ली के वोटरों को अपमानित करने के लिये इस्तेमाल कर रहे हैं, क्योंकि उन्होंने मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी और महिलाओं के लिये […]

Read More
 नज़रिया – दिल्ली में धर्म आधारित उन्मादित राष्ट्रवाद की हार हुई है

नज़रिया – दिल्ली में धर्म आधारित उन्मादित राष्ट्रवाद की हार हुई है

दिल्ली विधानसभा 2020 के चुनाव खत्म हो गये और जैसी उम्मीद की जा रही थी, अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी ने शानदार सफलता अर्जित की। यह चुनाव भाजपा के लिये प्रतिष्ठा का प्रश्न था। कई राज्यों के मुख्यमंत्री, ढेर सारे सांसदों और अनेक मंत्रियों ने प्रत्यक्ष रूप से चुनाव प्रचार में भाग […]

Read More
 “विकास के नाम पर लड़ेंगे चुनाव”- दिनेश मोहनिया

“विकास के नाम पर लड़ेंगे चुनाव”- दिनेश मोहनिया

संगम विहार विधानसभा से विधायक और दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष दिनेश मोहनिया ने संगम विहार विधानसभा के उन सारे कार्यों को पूरा कर चुनावों में किये गए वादों को पूरा करने का दावा किया,जिन्हें अक्सर घुमाया जाता रहा है। इसके अलावा H 16 पुलिस चौकी वाली गली,ब्लॉक जी 8 गली नं 8, ब्लॉक 1 […]

Read More
 हाल ए दिल्ली – छतरपुर में लांच हुआ AAP का कैम्पेन “अच्छे बीते 5 साल,लगे रहो केजरीवाल”

हाल ए दिल्ली – छतरपुर में लांच हुआ AAP का कैम्पेन “अच्छे बीते 5 साल,लगे रहो केजरीवाल”

हाल ए दिल्ली सीरीज़ के तहत हम आपको दिल्ली में 2020 के विधानसभा चुनावों के पहले के हालात से रूबरू करा रहे हैं। कि आखिर क्या राजनीतिक गतिविधियां दिल्ली में चल रही हैं ? कल “आप” के कार्यालय पर पार्टी का नया कैंपेन लॉन्च हुआ,यह नारा “अच्छे बीते 5 साल,लगे रहो केजरीवाल” के नाम से […]

Read More
 हाल ए दिल्ली – लगे रहो केजरीवाल के नारों से गूंज उठा संगम विहार..

हाल ए दिल्ली – लगे रहो केजरीवाल के नारों से गूंज उठा संगम विहार..

कल “आप” के कार्यालय पर पार्टी का नया कैंपेन लॉन्च हुआ, यह नारा “अच्छे बीते 5 साल, लगे रहो केजरीवाल” के नाम से लॉन्च किया गया। इस मौके पर आम आदमी पार्टी के टीम दिग्गज नेता शामिल रहें, इसी को ध्यान में रखते हुए विधायक दिनेश मोहनिया ने संगम विहार विधानसभा में पद यात्रा का […]

Read More
 हिन्दू और मुसलमान नौजवानों को मिलजुल कर बुराइयों के खिलाफ लड़ना होगा- संजय सिंह

हिन्दू और मुसलमान नौजवानों को मिलजुल कर बुराइयों के खिलाफ लड़ना होगा- संजय सिंह

कल शाम 25 नवम्बर की शाम को मुशायरे की इस अदबी और तहज़ीबी महफ़िल का आयोजन मुस्तफाबाद अमन चौक पर हुआ, इस मुशायरे का आयोजन मानव सेवा संगठन और उर्दू अकादमी ने किया था। इस मुशायरे में मुख्य अतिथि के तौर पर संजय सिंह(राज्यसभा सांसद),राजेन्द्र पाल गौतम(केबिनेट मंत्री दिल्ली सरकार),राष्ट्रीय प्रवक्ता आप दिलीप पांडे शामिल […]

Read More
 क्या है केजरीवाल सरकार की "होम डिलेवरी" स्कीम ?

क्या है केजरीवाल सरकार की "होम डिलेवरी" स्कीम ?

साभार: तीखी बात न्यूज़ – दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को अपने ड्रीम प्रॉजेक्ट ‘डोरस्टेप डिलिवरी’ की शुरुआत कर दी है। इसे आप की सरकार आपके द्वार बताया जा रहा है, कहा जा रहा है कि यह देश ही नहीं बल्कि दुनिया की पहली ऐसी योजना है। इस योजना के शुरू होते ही […]

Read More
 नज़रिया –  क्या अरविंद केजरीवाल ड्रामेबाज़ हैं ?

नज़रिया – क्या अरविंद केजरीवाल ड्रामेबाज़ हैं ?

यह लेख हमें आम आदमी पार्टी के शाहनवाज़ सिद्दीक़ी ने भेजा है, इस लेख को हम उनके नाम से ही प्रकाशित कर रहे हैं. पूरे भारत में 29 राज्य हैं, हर जगह सरकारी स्कूलों की हालत बेहद खस्ता है, जबकि दिल्ली में सरकारी स्कूलों का कायाकल्प हो गया है, स्कूल विश्वस्तरीय हो गए हैं, सरकारी […]

Read More
 नज़रिया – एक चुनी हुई सरकार को LG द्वारा कार्य न करने देना कहाँ तक सही है?

नज़रिया – एक चुनी हुई सरकार को LG द्वारा कार्य न करने देना कहाँ तक सही है?

दिल्ली के एलजी तो बड़े फ़रज़ी निकले। वे नौकरशाही के मुखिया हैं और उसे शह दे रहे हैं कि सरकार को सहयोग न करें? तीन महीने हो गए, अफ़सर सौंपे गए काम नहीं कर रहे, बुलाने पर आते नहीं, फ़ोन भी सुनने से इनकार कर देते हैं। अगर सरकार पंगु होकर रह गई है तो […]

Read More