सोशलमीडिया का चर्चित चेहरा अली सोहराब जिन्हे काकावाणी के नाम से जाना जाता है, दिल्ली पुलिस के साथ यूपी पुलिस ने गिरफ़्तार किया है। अली सोहराब को कमलेश तिवारी हत्याकांड और फिर बाबरी मस्जिद- राम मंदिर विवाद के फ़ैसले पर खुलकर प्रतिक्रिया देने के बाद दर्ज की गई FIR के तहत गिरफ़्तार किया गया है।
ज्ञात होकि अली सोहराब पर लखनऊ के हज़रतगंज थाना में FIR दर्ज की गई थी। जिसके बाद लखनऊ पुलिस ने अली सोहराब के फ़ेसबुक अकाऊँट को ट्रांजिट में लगाया था। जिसके बाद सोहराब की लोकेशन दिल्ली मिलने पर यूपी पुलिस ने दिल्ली पुलिस के साथ उन्हे सादी वर्दी में गिरफ़्तार किया। और नन्दनगरी थाना ले जाया गया।
पत्रकार जाकिर अली त्यागी ने अपनी फ़ेसबुक पोस्ट के जरिए जानकारी दी है, कि उनकी अली सोहराब के रिश्तेदारों से बात हुई है, फ़िलहाल सोहराब पर 4 धाराओं में मुक़दमा दर्ज़ किया गया है।  जिसमें 295a,295b,66,67 it एक्ट की धाराओं का इस्तेमाल किया गया है, जाकिर अली त्यागी ने बताया कि अली सोहराब को लखनऊ के हज़रतगंज थाने ले जाया जा रहा है, सारी धाराएं लगाई गई हैं।
ज्ञात होकि अली सोहराब सोशलमीडिया में सरकार और सिस्टम की मुखर आलोचना और जन अधिकारों के लिए अपनी बात खुलकर रखने के लिए जाने जाते हैं। लोगों का कहना है, कि अली सोहराब की गिरफ़्तारी उसी मुखर आवाज़ को दबाने की कोशिश है। ताकि भविष्य में कोई आवाज न उठा सके।

पत्रकार ज़ाकिर अली त्यागी ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर इस मसले पर जानकारी दी है


https://twitter.com/ZakirAliTyagi/status/1195611062839603201?s=20

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *