सायरा बानो (Saira Banu) और दिलीप कुमार (Dileep kumar) हिंदी सिनेमा के ऐसे सितारे रहे हैं, जिन्हें लोगों ने सर-आंखों पर बिठाया है। देश का हर नागरिक दिलीप कुमार के अंदाज और उनकी शालीनता का कायल रहा रहा है। लेकिन यह बात भी सच है कि अपने जीवन के आखिरी 13 साल उन्होंने शारीरिक समस्याओं से जूझते हुए गुजारे हैं, पर उनके साये की तरह सायरा  बानो ने हर कदम पर उनका साथ दिया है। चाहें वक्त अच्छा रहा हो, या बुरा। सायरा बानो ने दिलीप साहब की आखिरी सांस तक उनका साथ दिया। आज सायारा बानो के जन्मदिन पर हम आपको बताने जा रहें हैं कि आखिर ऐसी क्या वजह थी कि उन्हें देश के प्रधानमंत्री के सामने मदद की गुहार लगानी पड़ गई-

लैंड माफिया से परेशान थीं सायरा बनो 

दरअसल, दिलीप साहब और सायरा बानो एक लैंड माफिया की वजह से इतने परेशान हो गए थे कि उन्हें प्रधानमंत्री मोदी से मदद के लिए चिट्ठी लिखनी पड़ी। लंबे समय से एक जमीनी विवाद के चलते सायरा बानो और दिलीप साहब को काफी परेशानी झेलनी पड़ी थी और इस दौरान दिलीप साहब की सेहत भी काफी खराब रहने लगी थी। ऐसे में सायरा बानो को ही आगे आकर प्रधानमंत्री मोदी से मदद की गुहार लगानी पड़ी। 

समीर भोजवानी ने कर दिया था परेशान 

 19 दिसंबर 2018 में सायरा बानो ने एबीपी चैनल को एक इंटरव्यू दिया था, इस इंटरव्यू में सायरा बानो ने पूरे मामले पर विस्तार से जानकारी दी थी। उन्होंने इस इंटरव्यू में बिल्डर समीर भोजवानी (Sameer bhojwani) और उनके बीच चल रहे विवाद के बारे में बताते हुए कहा  कि ‘पिछले 12 सालों से हम परेशान हैं, कोर्ट के चक्कर लगाकर हम थक गए हैं। और आप जानती ही हैं कि बीते 10 सालों से यूसूफ साहब (Yusuf Khan) की तबीयत इतनी अच्छी नहीं रही है।

अगर तबीयत अच्छी होती, तो यह मौका ऐसा होता ही नहीं कि मैं यहां बैठ कर आपसे बात नहीं कर रही होती। वो खुद ही अपने मामलात सुलझा लेते। पर यह आदमी वो है जो लैंड माफिया का बदमाश होता है। मैं तो यही कहूंगी। इनके (दिलीप) वालिद साहब से इतने अच्छे ताल्लुकात होने के बाद भी वो इतनी तकलीफ दे रहा है दिलीप साहब को।

वो अपना मसल पावर इस्तेमाल कर रहा है। मनी पावर यूज कर रहा है। साथ कई पॉलिटिकल लोग है जो उसको मदद करते होंगे, फंड करते होंगे। हमने सीएम साहब को भी बताया था, पर शायद वो उनको धमका रहा होगा। अब प्रधानमंत्री से उम्मीद है कि वो हमारी मदद कर पाएं। 

दिल के करीब थी जमीन 

सायरा बानो जिस जमीन के विवाद से सालों जूझती रही, वो जमीन उनके दिल के बहुत करीब थी। सायरा बानो ने बताया कि जिस बंगले की जमीन के लिए वो लड़ रही हैं, पहली दफा  उन्होंने शादी करके उसी बंगले में कदम रखा था। 

सायरा ने विवाद के चलते अपने भाई को खोया

इस पूरे विवाद में वक्त और पैसे से कही ज्यादा सायरा बानो का नुकसान हुआ है। सायरा अपने इंटरव्यू में आपबीती बताते हुए कहती हैं कि मेरे बड़े भाई इस विवाद के चलते अपनी जान गंवा बैठे, इस आदमी की वजह से मेरे भाई को कोर्ट कचहरी  के चक्कर लगाने पड़े। 

इतनी भागदौड़ और स्ट्रेस की वजह से मेरे भाई की हालत खराब हो गई और उन्हें हार्ट अटैक आ गया। दिल का दौरा आने के बाद उनका इंतकाल हो गया। क्या अब मेरे सिकंदर भाई को वापस ला सकता है? नहीं। 

उन्होंने इंटरव्यू में बताया कि उनके भाई हमेशा से उनके और दिलीप साहब के हर काम के लिए अपनी जी-जान लगा देते थे। उनका यह जमीनी विवाद भी वही देख रहे थे। पर अपने भाई के इंतकाल के बाद सायरा को ही आगे आकर सब कुछ संभालना पड़ा था। 

इन सितारों ने भी लगाए समीर पर जमीन हड़पने के आरोप 

अभिनेता दिलीप कुमार के अलावा, निर्माता-निर्देशक कमाल अमरोही के बेटे ताजदार अमरोही और मशहूर अभिनेता आमिर खान के चाचा एवं निर्माता-निर्देशक नासिर हुसैन के साथ भी समीर भोजवानी का जमीन को लेकर विवाद रहा है। 

दिलीप कुमार और समीर भोजवानी का केस काफी लंबे समय तक चल था, समीर पर आरोप था कि उन्होंने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर दिलीप कुमार के नाम की बांद्रा, पाली हिल की संपत्ति अपने नाम कराया था। हालांकि लंबे संघर्ष के बाद सायरा बानो इन सभी संपत्तियों का मालिकाना हक मिल गया है। अब वो इन संपत्तियों का नए सिरे से निर्माण कराना चाहती हैं। 

About Author

Heena Sen