अमिताभ बच्चन सदी के महानायक हैं,देश भर में उनके चाहने वालों की तादाद करोड़ो में हैं। क़रीबन 50 सालों से इंडस्ट्री पर अपना जादू चला चुके अमिताभ बच्चन ने बहुत हिट और सुपरहिट फिल्में की हैं।

जिससे उनके चाहने वालों को संख्या सिर्फ देश ही नहीं विदेशों में भी बहुत है,और उन्हें दर्शक हर जगह अपना प्यार और सम्मान देते हैं।

लेकिन अमिताभ बच्चन का एक खास रिश्ता अफगानिस्तान से भी है,अब आप इस बात को जानकार हैरानी करें तो इससे पहले मैं आपको बता दूं अमिताभ बच्चन की बहुत फेमस फ़िल्म “खुदा गवाह” की शूटिंग अफगानिस्तान में ही हुई थी।

ये फ़िल्म 1992 में आई थी। श्रीदेवी के डबल रोल वाली ये फ़िल्म आज तक बहुत प्रसिद्ध है। इसमें डैनी ने अमिताभ के दोस्त की भूमिका निभाई थी और अमिताभ काबुली पठान “बादशाह खान” की भूमिका में नज़र आये थे।

अफगानिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति ने अमिताभ की फ़िल्म की शूटिंग के सुनकर बहुत गौर फिक्र करते हुए इंतज़ाम किये थे। क्योंकि वो भी अमिताभ के बहुत बड़े फैन थे। उस वक़्त के खराब हालात को देखते हुए राष्ट्रपति मोहम्मद नजीबुल्लाह ने क़रीबन देश की आधी वायुसेना को उस समय अमिताभ और फ़िल्म की शूटिंग में शामिल लोगों के लिए लगाया था।

इसके अलावा भी चाक चौबंद सुरक्षा की भी भारी व्यवस्था की गई थी, क्यूंकि जिस समय इस फ़िल्म की शूटिंग हुआ करती थी तब हज़ारों लोग सिर्फ अमिताभ बच्चन की झलक को देखने के लिए जमा हो जाया करते थे। उस वक़्त सुरक्षा व्यवस्था करने वाले लोगों के भी पसीने छूट जाया करते थे।

फ़िल्म की शूटिंग खत्म होने के बाद एक दिन अमिताभ बच्चन ने अफ़ग़ानिस्तान को घूमने के लिये एक दिन का वक़्त निकाला था,जहां इस देश के खूबसूरत और ऐतिहासिक इलाके का उन्होंने लुत्फ उठाया था। इस दौरान ही वहां की सरकार ने अमिताभ बच्चन को “ऑर्डर ऑफ अफगानिस्तान” के अवार्ड से नवाज़ा था।

मई 2017 में खुद अमिताभ बच्चन ने इस फ़िल्म की यादों को और अफ़ग़ानिस्तान में हुई शूटिंग को याद करते हुए एक ट्वीट किया था।जहां उन्होंने फिल्म के पोस्टर को शेयर करते हुए अपनी भावनाओं को व्यक्त किया था।

About Author

Asad Shaikh