कुछ दिन से सोशलमीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा था, जिसमे कुछ लड़के एक लड़की को पकड़कर ज़बरदस्ती उसके कपड़े उतार रहे हैं. उस वीडियो का सबसे शर्मनाक पहलू ये है, की लड़की उन लड़कों को बार बार भैया कहकर संबोधित कर रही है. फिर भी उन वहशी दरिंदों का दिल नहीं पिघलता और उस लड़की की इज्ज़त लूटते रहते हैं.

पटना ज़ोन के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) नैयर हसनैन ख़ान ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस में बताया कि यह वीडियो 28 अप्रैल की रात को पुलिस को मिला था जिसके बाद उन्होंने कार्रवाई करते हुए चार लोगों को गिरफ़्तार किया है, जिनमें से एक नाबालिग़ है और बाकी के चार लोगों की तलाश जारी है.

नैयर ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि पीड़िता नाबालिग़ थी, हालांकि उसने अब तक पुलिस से संपर्क नहीं किया है,  इस मामले में आरोपियों पर पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस ने आरोपियों की पहचान घटनास्थल पर मौजूद एक मोटरसाइकिल के के आधार पर की है जिस पर जहानाबाद का नंबर था.

बिहार के जहानाबाद जिले के इस वायरल वीडियो में जो हुआ है, उसे देखकर  आप शर्मसार हो जायेंगे, आपको गुस्सा भी आयेगा. इसमें पांच-छह लड़के एक लड़की को घेरकर उससे छेड़छाड़ करते नजर आ रहे हैं और उसके साथ बदसलूकी कर रहे हैं.

लड़की के लाख चिल्लाने के बाद भी लड़के उसके कपड़े उतारने की कोशिश करते रहते हैं, मगर कोई उसकी मदद नहीं कर रहा है.

पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि मैं वीडियो देखकर कांप गया. क्या हो गया है समाज को? निशब्द हूं! तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री पर हमला करते हुए कहा कि नीतीश कुमार के भाजपाई रामराज में 8-10 दरिंदे एक नादान 13-14 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म कर रहे है. उन्होंने कहा कि बलात्कारियों को सत्ताधारियों द्वारा भारत माता और तिरंगे की आड़ में जब नैतिक समर्थन मिलेगा तो समाज ऐसे ही बर्बाद होगा.