फ़ेक्ट चैक

सुरेश चौहाणके ने फ़िर किया फ़ेक न्यूज और पिक्स के साथ ट्विट और fb पोस्ट

सुरेश चौहाणके ने फ़िर किया फ़ेक न्यूज और पिक्स के साथ ट्विट और fb पोस्ट

सोशल मीडिया पर कई वेब पोर्टल और वेब साइट्स दिन रात झूठ गढ़ कर तथ्यों को मरोड़ कर दुष्प्रचार कर धार्मिक उन्माद भड़का कर देश का माहौल खराब करने का काम लगातार कर रहे हैं, इनमें Dainikbharat जैसे कई वेब पोर्टल्स हैं!
मगर झूठ, दुराग्रह, मुसलमानो के प्रति झूठे मामले गढ़ कर दुष्प्रचार कर सौहार्द को पलीता लगाने में इन सब में आगे है सुदर्शन चैनल और उसके मालिक सुरेश चव्हाणके !
आज ही इन्होने अपने ट्वीटर हैंडल पर दो दिन पहले जयपुर (राजस्थान) में जनता और पुलिस के बीच ट्रैफिक को लेकर कहा सुनी के बाद हुए बवाल को रोहिंग्या मुसलमानो से जोड़ कर अफवाह फैलाई है कि ” जयपुर में #रोहिंग्या_मुस्लिम कि जाँच शुरू कि तो 25000 हज़ार कि भीड़ ने पुलिस थाने को घेर लिया।आगज़नी कि,इशारा है #DeportRohinga पर आग लगाएँगे‬ !”


बाद में चव्हाणके ने इस ट्विट को डिलीट कर दिया. पर तब तक उस ट्विट का स्क्रीनशोट वायरल हो चुका था.

 
यही झूठी खबर चव्हाणके ने अपने फेसबुक वाल पर भी शेयर की है :
https://www.facebook.com/suresh.chavhanke/posts/1555799011109769
जबकि सारे देश को पता है कि ये एक दंपत्ति और पुलिसकर्मी के बीच ट्रैफिक को लेकर कहा सुनी का मामला है, इसका रोहिंग्या मुद्दे से को लेना देना बिलकुल नहीं है !

उस पर बड़ा झूठ ये कि जो फोटो पोस्ट किये हैं वो जयपुर के न होकर ब्रिटैन आउट गुजरात के हैं !

होक्सलेयर की पड़ताल पर भी इसे फ़र्ज़ी पाया गया है

 
अब सवाल ये उठता है कि देश के सौहार्द और शांति के माहौल को तीली लगाने के लिए तत्पर ऐसे सांप्रदायिक बवालियों को पुलिस, ख़ुफ़िया एजेंसियों और सरकार ने ओपन हैंड क्यों दे रखा है ? क्यों इस पर झूठ और दुष्प्रचार कर देश का माहौल करने और सुदर्शन चैनल के माध्यम से मीडिया तथा सोशल मीडिया में ज़हर खुरानी करने के आरोप में कार्रवाही नहीं की जा रही ?

Avatar
About Author

Syed Asif Ali

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *