कांग्रेस पार्टी की कमान संभालने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी 8 जनवरी को बहरीन के अंतराष्ट्रीय दौरे पर जाने की तैयारी कर रहे हैं.
राहुल गाँधी वहां एक कार्यक्रम में भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे. इसके अलावा वह बहरीन के प्रधानमंत्री खलीफा बिन सलमान अल खलीफा और शाही परिवार के सदस्यों से भी मुलाकात कर सकते हैं.
अपने एक दिन के दौरे पर राहुल गांधी मनामा में 50 देशों से भारतीय मूल के बिजनेस लीडरों से मुलाकात के दौरान भारत की अर्थव्यवस्था और आर्थिक मंदी पर चर्चा करेंगे.

  • इस कार्यक्रम में राहुल गाँधी के साथ प्रवासी कांग्रेस अध्यक्ष सैम पित्रोदा और पूर्व कांग्रेस सांसद मधु गौड़ भी होंगे.
  • इस कार्यक्रम के जरिए राहुल ना सिर्फ राजनीतिक लोगों तक पहुंचेंगे बल्कि भारतीय बिजनेस समुदाय से संपर्क होगा.
  • बहरीन के शहजादे के साथ लंच के बाद राहुल वहां रहने वाले भारतीय समुदाय से मिलेंगे.
  • राहुल GOPIO (ग्लोबल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पीपल ऑफ इंडियन ओरिजिन) के प्रतिष्ठित द्विवार्षिक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के चीफ गेस्ट हैं.
  • बहरीन में कांग्रेस अध्यक्ष के दौरे का पूरा इंतजाम देख रहे कांग्रेस नेता मधु गौड़ ने बताया, “ये अत्यंत गौरव का क्षण है क्योंकि राहुल जी GOPIO को संबोधित करेंगे.”

GOPIO भारतीय व्यापारियों के लिए एक ग्लोबल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म है, जहां 50 देशों से NRI लोग और भारतीय बिजनेस दिग्गज मिलेंगे. इस कार्यक्रम में करीब 1200 प्रतिनिधि शामिल होंगे.  
राजनीतिक जानकारों का मानना है कि, राहुल के इस दौरे का राजनीतिक महत्व भी है, मध्य पूर्व और खाड़ी के देशों में करीब 35 लाख भारतीय हैं, जो विशेष रूप से दक्षिण भारत से पहुंचे हैं. जिसका असर कर्नाटक चुनाव पर पड़ सकता है. राहुल इस दौरान भारतीय मूल के प्रमुख व्यापारियों से भी मिलेंगे और उनकी समस्याएं जानेंगे.
ज्ञात रहे कि, कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल का यह पहली विदेशी यात्रा है. इससे पहले वह उन्होंने सितंबर माह में बर्कले यूनिवर्सिटी का दौरा किया था. यहां उनकी काफी तारीफ हुई थी. उनके भाषण की दुनियाभर में चर्चा हुई थी. यहां उन्होंने ‘इंडिया एट 70: रिफ्लेक्शन्स ऑन द पाथ फॉरवर्ड’ विषय पर भाषण दिया था.

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *