नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने जम्मू में वैष्णो देवी दर्शन करने जाने वाले श्रद्धालुओं को लेकर एक आवश्यक निर्देश जारी करते हुए, एक दिन में 50हज़ार श्रद्धालुओं को दर्शन पर जाने की अनुमति की बाt कही है.
दरअसल, वैष्णो देवी के दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए पर्यावरण को होने वाले नुकसान से बचाने के लिए एनजीटी ने यह कदम उठाया.
पर्यावरण संरक्षण के लिहाज से इस दिशा में फैसला लिया गया है, माना जा रहा है कि एनजीटी के फैसले का असर सबसे ज्यादा नवरात्र के समय में देखने को मिलेगा.
नवरात्र के समय हर साल औसतन 50-60 हजार श्रद्धालु प्रतिदिन माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए पहुंचते हैं. ऐसे में कहा जा सकता है कि श्रद्धालुओं की संख्या सीमित करने के साथ यात्रियों के ठहरने के लिए भी पुख्ता इंतजाम करना श्राइन बोर्ड के लिए चुनौती भरा काम होगा.
 

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *