मध्यप्रदेश में 13 वर्षों से जमी भाजपा सरकार को बदलने के लिए विपक्षी पार्टियों ने भी अपनी कोशिशें तेज कर दी है। हाल ही में गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल और महाराष्ट्र की शिवसेना ने भी मध्यप्रदेश में भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ने की घोषणा की है। इससे भाजपा के लिये मुश्किलें बढ़ सकती है।
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) ने मंगलवार से पूरे प्रदेश में बदलेंगे मध्यप्रदेश संकल्प यात्रा शुरू की है। यह चार चरणों में पूरी की जाएगी और सभी विधानसभा क्षेत्रों में निकाली जाएगी। इसके बाद 2018 में होने वाली मध्यप्रदेश के चुनाव में पार्टी सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।
पार्टी के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल के अनुसार मध्यप्रदेश  में मंगलवार से शुरू की गयी बदलेंगे ‘मध्यप्रदेश संकल्प यात्रा’ में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के भ्रष्टाचार, जनता विरोधी नीतियों को विधानसभा वार मतदाताओं के घरों तक पहुंचाया जाएगा। अग्रवाल के मुताबिक इस दौरान लोगों को बताया जाएगा कि आम आदमी पार्टी का संकल्प है कि वह मध्यप्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बना देगी।
आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल नवंबर माह में हुई रैली में चुनाव का बिगुल फूंक चुके हैं।उन्होंने इस सभा में दिल्ली की उपलब्धियां गिनाई थी और मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर आरोप लगाए थे।
मध्यप्रदेश में 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए सभी दलों में सुगबुगाहट शुरू हो गई है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस, गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, शिवसेना के युवा प्रमुख आदित्य ठाकरे, बहुजन समाज पार्टी समेत आम आदमी पार्टी भी अब जी-तोड़ कोशिश में लग गई है। सभी दल इस बार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं।
 ऐसा है आप का कार्यक्रम
-पहला चरण दो से 18 जनवरी तक चलेगा।
-दूसरा 22 से 4 फरवरी तक चलाया जाएगा।
-तीसरा 11 फरवरी से 24 फरवरी तक चलेगा।
-चौथा चरण जोनस्तर पर 4 मार्च से 18 मार्च तक चलेगा।
-यात्रा में दिल्ली और मप्र सरकार के कामों की तुलना की जाएगी।
-आप के 14 आश्वासनों को भी लोगों को बताया जाएगा।

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *