October 20, 2021

अमेरिकी उपराष्ट्रपति ( American vice president) कमला हैरिस (kamla Harris) को अप्रैल महीने में एक महिला ने जान से मारने की धमकी दी थी। बता दें कि कमला हैरिस अमेरिका की उपराष्ट्रपति है। साथ ही वह भारतीय मूल की महिला हैं।
आरोपी महिला फ्लोरिडा के मियामी में रहती है, वहीं पेशे से नर्स है। हालांकि महिला को गिरफ्तार कर जांच पड़ताल की गयी थी। 39 वर्षीय महिला को फ्लोरिडा (Florida) से गिरफ्तार कर लिया गया था।

महिला पर आरोप लगे है कि उसने, भद्दे शब्दों का प्रयोग करते हुए उप राष्ट्रपति कमला हैरिस को जान से मारने की धमकी दी है।

बहरहाल, महिला से जांच पड़ताल कर ली गयी है। फ्लोरिडा के डिस्ट्रिक कोर्ट में सुनवाई के दौरान आरोप सिद्ध कर हो चुके हैं। आरोपी महिला को नवम्बर 2021 में सज़ा सुनाई जाएगी।

फ्लोरिडा के मियामी में रहती है आरोपी महिला:

दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक कमला हैरिस को जान से मारने की धमकी देने वाली महिला की पहचान निवियाने पेटिट फेल्प्स के रूप में की गई है। महिला पेशे से एक नर्स है और फ्लोरिडा के मियामी में रहती है। सीएनन की रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी नर्स जैक्सन हेल्थ सिस्टम में काम करती है। 39 वर्षीय इस नर्स ने कमला हैरिस को एक वीडियो में जान से मारने की धमकी दी थी। ये वीडियो महिला ने अपने पति को भेजी थी, जो पहले से ही जेल में बंद है। वीडियो में आरोपी महिला ने राष्ट्रपति जो बाइडेन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया था। वहीं जान से मारने की धमकी देते हुए वीडियो में महिला कहती है की, “कमला हैरिस तुम अब मरने जा रही हो, तुम्हारे दिन अब गिनती के बचे हैं।”

वीडियो में दी “कमला हैरिस” को मारने की धमकी:

रिपोर्ट्स के मुताबिक आरोपी नर्स ने ये वीडियो मैसेज जेल में बंद अपने पति को भेजा था। जिसमे वो कमला हैरिस को धमकी दे रही है। महिला कहती है, कमला हैरिस तुम बंदूक से मरने जा रही हो, आज से तुम्हारे पास सिर्फ 50 दिन है। इस दिन को अपने दिमाग में बैठा लो, इसके अलावा भी महिला ने कमला के लिए बहुत कुछ वीडियो में कहा।

महिला ने कमला को अश्वेत महिला कहा, आगे कहा कि उपराष्ट्रपति की शपथ लेते वक्त कमला ने बाइबल की जगह अपने क्लच पर्स पर हाथ रख था। ये आरोपी नर्स की नाराजगी का सबसे बड़ा कारण दिख रहा है। जांच एजेंसी से आरोपी नर्स की तस्वीर मिलने के बाद नर्स को गिरफ्तार कर लिया गया था।

जांच के दौरन बात करने से कर दिया था इनकार:

वन इंडिया के मुताबिक आरोपी नर्स से पूछताछ के लिए सीक्रेट सर्विस के अधिकारी के साथ मियामी डाडे की पुलिस भी पहुंची थी। लेकिन महिला ने जांच के दौरन बात करने से मना कर दिया। रिपोर्ट के मुताबिक महिला ने बंदूक के लाइसेंस के लिए भी आवेदन कर रखा था। दूसरी ओर वीडियो में भी महिला के हाथ मे एक बंदूक दिख रही है। वीडियो में अपने निशाने को देखते हुए महिला हंस रही थी। गौरतलब है कि अमेरिका में हथियार लाइसेंस लेना काफी आसान है। वहां कोई भी बंदूक और गन खरीद सकता है बशर्ते कि वो 18 साल से ऊपर हो।

नवंबर में दी जाएगी सज़ा:

यूनाइटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस (united states dipartment of justice) की वेबसाइट पर प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार आरोपी महिला पर वॉयलेंट क्राइम के तहत केस दर्ज किया गया है। वहीं स्यंक्त राज्य डिस्ट्रिक जज जोज़ इ. मार्टिनेज ( United States District Judge Jose E. Martinez ) ने सुनवाई के दौरान कहा कि महिला को इसी साल नवंबर 2021 में सज़ा सुनाई जाएगी। सज़ा की अधिकतम अवधि 5 साल होगी।


वेबसाइट के मुताबिक मियामी पुलिस और यूनाइटेड स्टेट सीक्रेट सर्विस (USSS) ने मामले की पूरी तहकीकात की है। वहीं यूनाइटेड स्टेट साउथर्न डिस्ट्रिक्ट ऑफ फ्लोरिडा के अटॉर्नी ऑफिसर ( Acting United States Attorney for the Southern District of Florida ), जुआन एंटोनियो गोंजालेज (Juan Antonio Gonzalez) ने मामले की पूरी जानकारी वेबसाइट पर दी है।

About Author

Sushma Tomar