अहमदाबाद: राजस्थान के उदयपुर में निर्वासन पर रह रहे पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने आरोप लगाया है कि भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह राजस्थान पुलिस के जरिए उन्हें परेशान कर रहे हैं. हार्दिक ने शनिवार को अहमदाबाद के एक टेलीविजन चैनल से कहा कि अमित शाह के निर्देश पर राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने राजस्थान पुलिस को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि वह जमानत की शर्ते पूरी न कर सकें.
हर सोमवार को उदयपुर पुलिस थाने में होना होता है पेश
उल्लेखनीय है कि हार्दिक को हर सोमवार को उदयपुर पुलिस थाने में पेश होना होता है. राजद्रोह के दो मामलों में गुजरात उच्च न्यायालय ने आठ जुलाई को हार्दिक को जमानत देते हुए यह शर्त रखी थी कि उन्हें गुजरात से बाहर छह महीने गुजारने होंगे और इस दौरान वह जहां भी रहेंगे उन्हें नजदीकी पुलिस थाने पर हर सोमवार को पेश होना होगा.

गुजारत से बाहर छह महीने निर्वासन के लिए उदयुपर को चुना
हार्दिक ने गुजारत से बाहर छह महीने निर्वासन के लिए उदयुपर को चुना. पटेल ने दावा किया कि उदयपुर पुलिस हर सोमवार को कोई न कोई रोड़ा खड़ा करने की कोशिश करती है ताकि हार्दिक उदयपुर पुलिस थाने तक न पहुंच सकें. हार्दिक अगर जमानत की शर्ते पूरी नहीं कर सके तो राज्य सरकार उच्च न्यायालय से उनकी जमानत रद्द करने के लिए कह सकती है.