अफगानिस्तान से अमेरिका के जाने के बाद अब वहां पर तालिबानी हुकूमत की घोषणा का इंतजार है। पूरी दुनिया इस सोच में है कि आखिर अमेरिका ने बैक फुट क्यों लिया है? मगर भारत में लोग अलग ही चर्चा में उलझे हुए हैं।

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के बेहतरीन अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने एक वीडियो जारी कर उन हिंदुस्तानी मुसलमानों को फटकार लगाया है, जो तालिबान के समर्थन में खड़े हैं। वीडियो में नसीरुद्दीन काफी नाराज़ नजर आ रहे है। यह वीडियो काफी जल्दी वायरल भी हो गया है।

भारत के कुछ मुसलमान तालिबान के पक्ष में

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से भारत में लगातार इस विषय पर बहस हो रही है। भारत में मौजूद मुसलमान दो विचारों में बंट चुके हैं। एक वह लोग हैं जो अफगानिस्तान के लोगों को लेकर अपनी संवेदना और चिंता व्यक्त कर रहे हैं। दूसरे वह मुसलमान हैं जो तालिबान के इस कदम का समर्थन कर रहे है और जश्न मना रहे हैं।

ऐसे ही हिंदुस्तानी मुसलमान जो तालिबानी आतंकवादियों का समर्थन कर रहे है, उनके खिलाफ नसीरुद्दीन ने अपना बयान लोगों के समक्ष रखा है।

क्या बोले नसीरुद्दीन शाह?

पूरे मुद्दे पर अपना विचार रखते हुए नसीरुद्दीन ने कहा, ” दुनिया के कई देशों में जो इस्लामिक प्रथाएं और रिवाज मौजूद हैं, वो भारत के इस्लामिक प्रथाओं से काफी अलग है।” उर्दू में रिकॉर्डेड उनकी वीडियो में वह हिंदुस्तानी तालिबान समर्थकों की निंदा करते सुनाई देते है।

उन्होंने कहा, ” अफगानिस्तान में तालिबानियों की वापसी पूरी दुनिया के लिए चिंता का सबब है। कुछ भारतीय मुस्लिमों का इन बर्बर लोगों के लिए जश्न मनाना चिंता की बात है और साथ ही खतरनाक भी है। हर मुस्लिम को खुद से पूछना चाहिए कि क्या उन्हें इस्लाम का आधुनिक स्वरूप चाहिए? उन्हें जिद्दत पसंद आधुनिकता चाहिए या फिर कई सदियों पुराने बर्बर रीति रिवाज।”

अंत में अपनी बात खत्म करते हुए उन्होंने कहा कि, “मैं दुआ करता हूं कि हिंदुस्तानी इस्लाम कभी इस क़दर न बदले कि हम उसे पहचान भी न पाएं।”

About Author

Ankit Swetav