जयपुर के अलबर्ट हॉल में कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है. इसी समारोह में राज्यपाल कल्याण सिंह ने सचिन पायलट राज्य को डिप्टी सीएम के पद की शपथ दिलायी.

इस दौरान मंच पर कई विपक्षी दलों के नेता मौजूद थे. बता दें कि अशोक गहलोत 1998 में पहली बार मुख्यमंत्री बने और 2008 में दूसरी बार मुख्यमंत्री का पदभार संभाला. और अब वह 2018 में तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं.

उप-मुख्यमंत्री बने पायलट फिलहाल राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हैं. सचिन पायलट यूपीए सरकार में अजमेर से सांसद और मंत्री रह चुके हैं. वह अपने जमाने में कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत राजेश पायलट के पुत्र हैं.

ज्ञात होकि राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद मुख्यमंत्री पद के चयन को लेकर लंबी खींचतान देखी गई थी. अशोक गहलोत और सचिन पायलट दोनों इस पद की दौड़ में शामिल थे. बैठकों और गहन मंथन के बाद गत 14 दिसंबर को कांग्रेस अध्यक्ष ने गहलोत को मुख्यमंत्री और पायलट को उप मुख्यमंत्री नामित करने का फैसला किया.

अलबर्ट हॉल में आयोजित इस शपथ समारोह में विपक्षी एकता का भी प्रदर्शन किया गया, मंच पर फारूख अब्दुल्लाह, शरद पवार, एचडी देवगौड़ा, चंद्रबाबू नायडू, शरद यादव, एमके स्टॅलिन, बदरुद्दीन अजमल, आदि उपस्थित रहे

राहुल गांधी ने ट्वीट करके राजस्थान की जनता का आभार व्यक्त किया

राहुल गांधी ने ट्वीट करके आभार व्यक्त किया, उन्होंने लिखा – कांग्रेस पार्टी पर विश्वास करने के लिए राजस्थान वासियों का हृदय से आभार. कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और नेताओं को उनके संघर्ष के सफल होने पर हार्दिक बधाई! राजस्थान की सेवा करना कांग्रेस पार्टी के लिए गौरव की बात है. हम अपनी ज़िम्मेदारी पूरी तरह निभाएंगे.