दो साल बाद आईपीएल में वापसी करते हुए चेन्नई ने ख़िताब जीतकर एक बार फिर अपना दबदबा कायम किया है. रविवार को खेले गए फाइनल मैच में शेन वॉटसन ने हैदराबाद के गेंदबाजों को धराशाई करते हुए शानदार शतक के साथ मैच को CSK की झोली में डाल दिया.
इस मैच में शेन वाटसन ने शानदार शतक जड़ते हुए मैच को एकतरफ़ा बना दिया था. वहीं पूरे टूर्नामेंट में अपनी शानदार गेंदबाज़ी के दम पर वाहवाही लूटने वाली सनराईज़र्स हैदराबाद की गेंदबाज़ी कुछ कमाल नहीं दिखा पाई. भुवनेश्वर कुमार और राशिद खान को छोड़कर सभी गेंदबाजों को वाटसन ने अपना शिकार बनाया.


सनराइजर्स की ओर से दिए गए 179 रन के जवाब में चेन्‍नई ने केवल फाफ डुप्‍लेसिस (10) और सुरेश रैना (32) के विकेट गंवाए. वॉटसन के साथ अंबाती रायुडू ने 16 रन पर नाबाद रहते हुए टीम को जीत तक पहुंचा दिया.
वानखेड़े स्‍टेडियम पर खेले गए इस मैच में चेन्‍नई के आमंत्रण पर पहले बैटिंग करते हुए सनराइजर्स ने कप्‍तान केन विलियमसन के 47 और यूसुफ पठान के नाबाद 45 रनों की मदद से 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 178 रन का सम्‍मानजनक स्‍कोर बनाया था.
लेकिन वॉटसन रूपी ‘तूफान’ के आगे यह स्‍कोर बेहद साधारण साबित हुआ. खिताबी जीत के फलस्‍वरूप चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स से 20 करोड़ रुपये की प्राइजमनी हासिल हुई जबकि सनराइजर्स को 12 करोड़ 50 लाख रुपये की प्राइजमनी से ही संतोष करना पड़ा.

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *