इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की बीच शुरू हुए पहले पिंक बॉल ड़े नाइट टेस्ट के पहले दिन इंग्लैंड कीवी गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट के तूफान के आगे बेबस नजर आई.टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने आई इंग्लैंड की पूरी टीम महज 20.4 ओवर में 58 रन पर ढेर हो गई.बोल्ट ने 10.4 ओवर में 32 रन देकर 6 विकेट झटके.वहीं दूसरे छोर पर गेंदबाजी कर रहे टिम साउदी ने भी शानदार गेंदबाजी करते हुए 10 ओवर में 25 रन देकर 4 विकेट हासिल किए.एक समय इंग्लैंड का स्कोर 23/8 था,लेकिन पुछल्ले बल्लेबाज क्रेग ओवरटन ने नाबाद 33 रन की पारी खेलकर इंग्लैंड को 50 के पार पहुँचाया और टेस्ट क्रिकेट के सबसे शर्मनाक स्कोर पर ढेर होने से बचा लिया.
ओवरटोन के अलावा एलेस्टर कुक 5, मार्क स्टोनमैन 11 ,डेविड मलन 2 और जेम्स एंडरसन 1 रन ही बना पाए. इंग्लैंड के बल्लेबाजों की बेबसी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उसके 5 खिलाड़ी बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए. इनमें जो रूट, बेन स्टोक्स, जॉनी बेयरस्टो, मोईन अली, स्टुअर्ट ब्रॉड शामिल हैं.
न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया, जिसे उनके तेज गेंदबाजों ने सही साबित किया.इंग्लैंड की टीम को एलेस्टर कुक के रूप में पहला झटका लगा.इसके बाद पारी के पांचवें ओवर की दूसरी गेंद पर कुक बोल्ट की गेंद चलते बने. बोल्ट यहीं नहीं रुके और अपने अगले दो ओवरों में जो रूट और डेविड मलान को भी पवेलियन की राह दिखाई.इंग्लैंड को चौथा झटका स्टोन्समैन के रूप में लगा.उन्हें साउदी ने आउट किया. इसके बाद टेस्ट टीम में वापसी करने वाले बेन स्टोक्स भी खाता खोले बगैर बोल्ट की गेंद पर बोल्ड हो गए. अकेले ओवरटन एक छोर थामे रहे और दूसरे छोर से विकेट गिरने की सिलसिला चलता रहा. ओवरटन ने 25 गेंद में 33 रन का पारी खेली और इस दौरान 5 चौके और एक छक्का जड़ा.
मेजबान टीम ने जवाब में सधी हुई शुरुआत करते हुए दिन का खेल ख़त्म होने तक 3 विकेट खोकर 175 रन बना है और उसके पास 117 रनों की बढ़त है.कप्तान केन विलियमसन 91,और हेनरी निकोल्स 24 रनों पर नाबाद हैं. जीत रावल (3) और रोस टेलर (20) के विकेट जेम्स एंडरसन ने लिए वहीँ टॉम लाथम(26),स्टुअर्ट ब्रॉड का शिकार बने.
गौरतलब है कि दोनों देशों के बीच बीच पहली बार डे नाइट टेस्ट खेला जा रहा है.  न्यूजीलैंड ने इससे पहले 2015 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ दूधिया रोशनी में टेस्ट मैच खेला था जिसमें उसे हार का सामना करना पड़ा था. इंग्लैंड दो बार गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच खेल चुका है. उसने अगस्त में वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सरजमीं पर जीत दर्ज की थी लेकिन दिसंबर में वह एडिलेड ओवल में आस्ट्रेलिया से हार गया था.

जानिये टेस्ट क्रिकेट के टॉप 10 लोवेस्ट स्कोर

  • 43  दक्षिण अफ्रीका बनाम इंग्लैंड 1989
  • 42   भारत बनाम इंग्लैंड 1974
  • 42  ऑस्ट्रेलिया बनाम इंग्लैंड 1988
  • 42  न्यूजीलैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया 1946
  • 36  ऑस्ट्रेलिया बनाम इंग्लैंड 1902
  • 36   दक्षिण अफ्रीका बनाम ऑस्ट्रेलिया 1932
  • 35   दक्षिण अफ्रीका बनाम इंग्लैंड 1899
  • 30   दक्षिण अफ्रीका बनाम इंग्लैंड 1924
  • 30   दक्षिण अफ्रीका बनाम इंग्लैंड 1896
  • 26   न्यूजीलैंड बनाम इंग्लैंड 1955
About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *