व्यक्तित्व – मुहम्मद रफ़ी, जिनकी आवाज़ की दीवानी थी दुनिया

व्यक्तित्व – मुहम्मद रफ़ी, जिनकी आवाज़ की दीवानी थी दुनिया

आज 24 दिसम्बर है,ये वो तारीख है जब भारत के सबसे बेहतरीन गायकों में से एक मोहम्मद रफी का जन्म हुआ था। मोहम्मद रफी वो शख्सियत थे जिन्होंने उन सुर और ताल से लेकर और संगीत के अलग अलग स्केल पर अपना लोहा मनवाया की बड़े बड़े सिंगर भी ऐसा कर पाने में कामयाब नही […]

Read More
 पश्चिमी यूपी, हिन्दु मुस्लिम एकता और "बड़े चौधरी साहब"

पश्चिमी यूपी, हिन्दु मुस्लिम एकता और "बड़े चौधरी साहब"

चौधरी चरण सिंह “बड़े चौधरी साहब” पश्चिम उत्तर प्रदेश में पैदाईश पाने वाले नेता जो ईमानदारी के लिए जाने जाते थे जो “किसानों” के लिए काम करने के लिए जाने जाते थे चौधरी चरण सिंह वो ज़मीनी नेता थे जो ज़मीन से जुड़े रहते थे और ज़मीन पर ही रहतें थे। चौधरी चरण सिंह ने […]

Read More
 गुजरात – दस प्रतिशत आबादी की अनदेखी करना कांग्रेस को भारी पड़ा

गुजरात – दस प्रतिशत आबादी की अनदेखी करना कांग्रेस को भारी पड़ा

गुजरात चुनाव के परिणाम आ गए है,चुनाव आयोग की वेबसाइट के अनुसार भाजपा को बहुमत मिला है और भाजपा के राष्ट्रीय अध्य्क्ष ने वहां सरकार बनाने के ऐलान कर दिया है । भाजपा छठी बार लगातार गुजरात मे सरकार बनाने जा रही है,इस बार मुक़ाबला मोदी और राहुल का आमने सामने था और परिणाम बता […]

Read More
 क्या सोनिया गांधी जैसा करिश्मा कर पायेंगे " राहुल " ?

क्या सोनिया गांधी जैसा करिश्मा कर पायेंगे " राहुल " ?

कांग्रेस में “सोनिया युग” खत्म हो गया,और कांग्रेस में ही क्यों देश मे कांग्रेस युग खत्म हो गया,क्योंकि सोनिया गांधी सिर्फ कांग्रेस की नेता नही रही,देश की नेता रही है,और सिर्फ कांग्रेस की अध्यक्ष नही रही है,देश के प्रधानमंत्री पद की दावेदार रही हैं । सोनिया गांधी ने आज नम आंखों में भरी खुशी के […]

Read More
 संविधान की प्रस्तावना और वर्तमान भारतीय समाज

संविधान की प्रस्तावना और वर्तमान भारतीय समाज

“हम भारत के लोग भारत को एक संप्रभु , समाजवादी,धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक गणतंत्र में विधिवत तौर पर गठित करने का संकल्प करते है और इसके सभी नागरिकों के लिए न्याय समाजिक,आर्थिक और राजनीतिक, स्वतन्त्रता-विचार अभिव्यक्ति, विश्वास, निष्ठा तथा पूजा की समानता स्तर तथा अवसर को सुनिश्चित करना और सभी नागरिकों के बीच प्रोत्साहित करना भ्रातत्व तथा […]

Read More
 क्या एग्ज़िट पोल हमेशा सही साबित होते हैं ?

क्या एग्ज़िट पोल हमेशा सही साबित होते हैं ?

एग्ज़िट पोल,एक और एग्ज़िट पोल और फिर एक और एग्ज़िट पोल और माहौल मानो ऐसा की जैसे “फैसला” हो गया हो मगर एग्ज़िट पोल जो होता है नब्ज़ तो होता है मगर सही या गलत अलग बात है,एग्ज़िट पोल भाजपा को “बहुमत” दे चुका है,कांग्रेस जितनी नज़र आ रही थी एग्ज़िट पोल उतना उंसे भाव […]

Read More
 राजस्थान घटना, "जानवर भी इंसानों से बेहतर हैं"

राजस्थान घटना, "जानवर भी इंसानों से बेहतर हैं"

ऐसी तस्वीर जो इंसान की चींखों पर गौर न करें,रोती बिलखती,आवाज़ों पर गौर न करें,रहम न करें नज़र भी घुमाएं,न उसकी तरफ देखें जिसके लिए उसके दिल मे नफरत भरी है,इतनी नफ़रत की की लोहे का औज़ार से सिर पर वार करते हुए अपमी आप को शांति दे? क्यों वो ये भूल रहा है कि […]

Read More
 क्या मायने हैं, राहुल के अध्यक्ष होने के ?

क्या मायने हैं, राहुल के अध्यक्ष होने के ?

राहुल गाँधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद का नामांकन भर दिया है और उनके नजरिये से अच्छी बात ये है की किसी और ने नामांकन नही भरा है | खैर भरता भी और कोंन नामांकन अकेले ही लड़ेंगे और अकेले जीतना भी तय हो गया है | मगर राहुल ने तो जेसे काँटों का ताज अपने […]

Read More
 क्या है राहुल गांधी के बढ़ते ग्राफ़ की वजह

क्या है राहुल गांधी के बढ़ते ग्राफ़ की वजह

गुजरात चुनाव के रंग में सब रंगे है,प्रधानमंत्री,केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, गुजरात के विधायकों के से लेकर तमाम भाजपा नेता सभी के सभी चुनाव को अपनी रणनीति पर लड़ रहे है,और वो रणनीति है कांग्रेस के खिलाफ बोलकर माहौल बनाना और अपने एजेंडा को मजबूत करना,वो क्या है ये खुद एक अलग बहस है,और हो […]

Read More
 मुस्लिम समाज, मुशायरे की भीड़ और विकास

मुस्लिम समाज, मुशायरे की भीड़ और विकास

इस कौम को “मुशायरों” ने क्या दिया? क्या दिया इन राजनीतिक मुशायरों ने,जिसकी तैयारीयों में लाखों रुपये खर्च कर ‘माहौल’ बनाया जाता है,और जिस पार्टी का ये मुशायरा है उस पार्टी के ‘नेता’ को सेक्युलर बनाया जाता है,क्यों किसलिए कौम के नाम पर “लाखों” रुपये मुशायरों में फूंकें जातें है? क्या मिलता है इससे मुस्लिमों […]

Read More