January 23, 2022
राजनीति

क्या इस उद्घाटन कार्यक्रम में ममता पीएम मोदी की अनदेखी कर रही थीं ?

क्या इस उद्घाटन कार्यक्रम में ममता पीएम मोदी की अनदेखी कर रही थीं ?

शुक्रवार को कोलकाता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक अस्पताल का उद्घाटन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए किया। कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी मौजूद रही। हालाँकि, पूरे कार्यक्रम के दौरान ममता बनर्जी पीएम मोदी की अनदेखी करती हुई नज़र आई। खबरों के मुताबिक ममता बनर्जी पीएम मोदी से नाराज़ थी। वहीं ममता, पीएम मोदी की अनदेखी करती भी दिखी।

कार्यक्रम में ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को कहा, की स्वास्थ्य मंत्री ने उन्हें दो बार कॉल करके कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कहा था। मैनें सोचा कि कार्यक्रम कोलकाता का है और पीएम मोदी भी आ रहें हैं तो मुझे इसमें ज़रूर शामिल होना चाहिए।

अस्पताल का उद्घाटन हम पहले कर चुकें है: ममता बनर्जी

PM narendr modi शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए चितरंजन राष्ट्रीय कैंसर संस्थान (chitranjan national cancer institute) का उद्घाटन कर रहे थे। इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM mamta banarji) ने पीएम से कहा, “राज्य सरकार चितरंजन अस्पताल का उद्घाटन पहले कर चुकी है।

Image : google

उन्होंने आगे कहा कि कोविड के दौरान हमें अस्पताल की ज़रूरत थी, चितरंजन अस्पताल राज्य के पास है इसलिए राज्य सरकार ने इसे कोविड सेंटर बना दिया। इससे हमें कोरोना के ख़िलाफ़ काफ़ी मदद मिली।” बता दें कि शुक्रवार को चितरंजन कैंसर संस्थान के दूसरे परिसर का उद्घाटन किया गया था।

530 करोड़ की लागत वाले अस्पताल में ये हैं सुविधाए :

पश्चिम बंगाल में बना चितरंजन राष्ट्रीय कैंसर संस्थान को बनाने में 530 करोड़ की लागत लगी है। इसमें 400 करोड़ केंद्र सरकार की ओर से दी गयी राशि है वहीं बाकी राशि पश्चिम बंगाल सरकार ने दी है। कुल मिलाकर ये अस्पताल 75 : 25 के रेशों से बना है।


अस्पताल की फेसेलिटी की बात करें तो आधुनिक तकनीक के साथ ये 460 बेड का अस्पताल है। ये अस्पताल कैंसर के निदान, उपचार और देखभाल में बेहतरी करेगा। इसमें न्यूक्लियर मेडिसिन (पीईटी), 3.0 टेस्ला एमआरआई, एंडोस्कोपी सूट, आधुनिक ब्रेकीथेरेपी यूनिट, 128 स्लाइस सीटी स्कैनर और रेडियोन्यूक्लाइड थेरेपी यूनिट जैसी आधुनिक सुविधाएं भी मौजूद हैं।

पश्चिम बंगाल में 40 फीसदी लोगो को नहीं लगी है वैक्सीन :

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM NARENDRA MODI) ने कहा, साल की शुरुआत देश ने 15 से 18 साल की उम्र के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन से की थी। वहीं आज साल के पहले महीने के पहले हफ्ते में ही भारत 150 करोड़ वैक्सीन डोज़ का ऐतिहासिक मुकाम भी हासिल कर रहा है.

Image : twitter

दूसरी और ममता बनर्जी ने कहा कि हमने, “43 नए सुपर स्पेशलिस्ट अस्पताल , 16 मदर एंड चाइल्ड सेंटर बनाए हैं। राज्य में हमने 0 डोज़ वेस्टीज के रिकॉर्ड वैक्सीन लगाई है। इसके बाद भी हमें और टीको की ज़रूरत हैं क्योंकि पश्चिम बंगाल में 40 फीसदी लोगों को वैक्सीन नहीं लगी हैं।

About Author

Sushma Tomar