लखनऊः उत्तर प्रदेश में बिगड़ती जाती रही क़ानून व्यवस्था पर योगी सरकार को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में विपक्ष की आलोचना और चरमराई क़ानून व्यवस्था से बेपरवाह कहा था कि यूपी के हालात बहुत बेहतरे हैं, और इस पर गर्व है। लेकिन सीएम योगी के ज़मीनी दावों की हक़ीक़त कुछ और ही है। उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।

अब उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया संयोजक ललन कुमार ने सीएम योगी से इस्तीफा मांगा है। उन्होंने तंज करते हुए कहा कि बाबा जी फिर दोहरा रहा हूँ इस्तीफा दो मठ संभालो। कांग्रेस नेता ने यह बातें बीते 24 घंटें में घटी घटनाओं को लेकर कही हैं। उन्होंने कहा कि बीते 24 घंटे में उत्तर प्रदेश के हालात देखिए। सीतापुर मे नाबालिग दलित के साथ सामूहिक बलात्कार, चित्रकूट मे बंधुआ मजदूर बनने से इनकार करने पर पिता की हत्या, बेटे का हाथ तोड़ा। योगी आदित्यनाथ के के गृहनगर मे दोहरा हत्याकांड। बाबा जी फिर दोहरा रहा हूँ इस्तीफा दो मठ संभालो।

ललन कुमार ने आगरा के विधी चंद गांव में हुई भूख से मौत पर भी अफसोस जताया है। उन्होंने पीएम मोदी पर तंज करते हुए कहा कि रोमन शासक भूखी जनता को सर्कस देते थे। हमारा ‘प्रधानसेवक’ भूखी जनता से ताली थाली पिटवाता है, खुद मोर नचाता है। भारतीय लोकतंत्र ने ऐसे शर्मनाक दिन कभी नहीं देखे जैसे बीते कुछ वर्षों में देखे हैं।

कांग्रेस मीडिया प्रभारी ने NCERT की फर्जी किताबें छापने के आरोपी भाजपा नेता संजीव गुप्ता के बहाने भाजपा की चोटी की लीडरशिप को भी कठहरे में खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि फर्जी डिग्री से नकली किताबों तक, भाजपा हमेशा से ही भारत के शिक्षा तंत्र से खिलवाड़ कर सभी का भविष्य खतरे में डाल रही है। बता दें यूपी कांग्रेस की मेरठ यूनिट ने फर्जी किताबें छापने के ख़िलाफ आज मेरठ में प्रदर्शन भी किया है।

About Author

Team TH