उत्तरप्रदेश

होमवर्क न करने पर शिक्षिका की पिटाई से छात्रा की मौत

होमवर्क न करने पर शिक्षिका की पिटाई से छात्रा की मौत

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है. मिडिया रिपोर्टो के अनुसार एक प्राइवेट स्कूल में  होमवर्क न करने पर टीचर की पिटाई से कक्षा 4 की छात्र की मौत का मामला सामने आया है.

खबर के अनुसार परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी टीचर और स्कूल प्रबन्धक सहित तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.


नवभारत में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार जिले के रसड़ा थाना क्षेत्र में मौजूद सेंट जेवियर्स स्कूल के बाहर छात्रा के शव को रखकर न्याय की गुहार लगा रहे परिजनों के मुताबिक दस साल की सुप्रिया रोज की तरह 5 फरवरी स्कूल गई थी. परिवार का आरोप है कि होमवर्क न करने की बात पर टीचर रजनी उपाध्याय ने सुप्रिया को इतने थप्पड़ मारे कि उसकी हालत खराब हो गई और वह बेहोश हो गई.

स्कूल प्रबन्धक ने परिजनों को सूचना देकर सुप्रिया को उनके हवाले कर दिया गया. परिजन सुप्रिया को लेकर इलाज के लिए मऊ ले गए जहां सीटी स्कैन के बाद डॉक्टरों ने सुप्रिया को ब्रेन हेमरेज बताया. इसके बाद परिजन सुप्रिया को लेकर वाराणसी ट्रॉमा सेंटर ले गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

गुस्साए छात्रा के पिता संतोष वर्मा ने बुधवार को स्कूल के बाहर गेट पर शव रखकर न्याय की मांग की. इसकी सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे एडीएम मनोज सिंघल ने कहा कि शव का पोस्टमॉर्टम कराकर मामले की जांच की जाएगी जो भी दोषी होंगे उन पर कार्रवाई होगी. छात्रा के पिता सन्तोष वर्मा की शिकायत पर पुलिस ने टीचर रजनी उपाध्याय के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323 व 304 के तहत रसड़ा कोतवाली में नामजद मामला दर्ज कर लिया है और पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

About Author

सुभाष बगड़िया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *