बॉलीवुड

शाहरुख़ ने साधा ट्रंप पर निशाना – कहा , यह दुखद है कि 'माई नेम इज खान' अब भी प्रासंगिक है

शाहरुख़ ने साधा ट्रंप पर निशाना – कहा , यह दुखद है कि 'माई नेम इज खान' अब भी प्रासंगिक है

बोलिबुड के बादशाह शाहरुख खान की सुपरहिट फिल्म ‘माई नेम इज खान’ की रिलीज के सात साल पूरे हो गए हैं, वर्ष 2010 में आई इस फिल्म में शाहरुख़ ने रिजवान खान नामक एक शख्स की कहानी कहती को जिया है, जो अपने बेटे की हत्या के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति से मिलने के लिए यात्रा पर निकलता है और अपने धर्म के बारे में लोगों की धारणा बदलने का प्रयास करता है.
फिल्म के सात साल पूरे होने पर शाहरुख ने ट्विटर पर लिखा, “यह दुखद है कि ‘माई नेम इज खान’ अब भी प्रासंगिक है. लेकिन करण (जौहर), रवि, काजोल, एसईएल शिबानी निरंजन दीपा जिमी और सभी कलाकारों को इस विशेष फिल्म के लिए धन्यवाद.”
 
किंग खान का यह ट्विटर सन्देश अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के विवादास्पद कार्यकारी आदेश की ओर इशारा करता है. जो उन्होंने अस्थायी रूप से सात मुस्लिम बहुल देशों के शरणार्थियों और नागरिकों को अमेरिका में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया था.
इस मौके पर फिल्म के निर्देशक करण जौहर ने ट्विटर पर लिखा, “प्यार, संदेश, अपनी बेगुनाही का प्रसार करने के लिए रिजवान को धन्यवाद. ‘माई नेम इज खान’ के सात साल पूरे.”

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published.