पद्मावती से पद्मावत बनी फिल्‍म का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. करणी सेना सहित अन्‍य संगठन देश अलग-अलग हिस्‍सों में इसको लेकर अभी भी विरोध हो रहा हैं. और इसको लेकर खूब उत्पात मचाया जा रहा है व तोड़ फोड़ की जा रही है.
इसका अभी ताजा मामला मध्‍य प्रदेश के रतलाम जिले का है , जहाँ फिल्‍म के गाने ‘घूमर’ चलाए जाने के विरोध में तोड़फोड़ की गई.
मध्यप्रदेश के रतलाम में सोमवार को कुछ युवकों ने खुद को करणी सेना का सदस्य बताते हुए जावरा के सेंट पॉल कॉन्वेंट स्कूल में कथित तौर पर तोड़-फोड़ की. गुस्सा स्कूल के कार्यक्रम में फिल्म ‘पद्मावत’ के ‘घूमर’ गाने पर बच्चों के डांस को लेकर बरपा.
 


प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक आंदोलनकारियों ने बच्चों को धक्का दिया, माता-पिता और शिक्षकों के साथ दुर्व्यवहार किया और स्कूल प्रशासन को धमकी भी दी. यही नहीं कुर्सी, म्यूज़िक सिस्टम और स्टेज पर भी गुस्सा उतारा गया.

पुलिस ने इस मामले में जबरन प्रवेश, मारपीट और दूसरों की सुरक्षा को खतरे में डालने का मामला दर्ज किया है. पुलिस ने चार युवकों को भी हिरासत में लिया है. जोरा पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर ओपीएस परिहार ने कहा, “15-20 लोग स्कूल परिसर में घुस गए थे जब फिल्म ‘पद्मावत’ के गाने ‘घूमर पर’ नृत्य का मंचन किया जा रहा था. उन्होंने कार्यक्रम में खलल डाला और फिर वहां से भाग गए. हमने चार लोगों को हिरासत में लिया है और मामला दर्ज कर लिया है.

दूसरी तरफ शनिवार को चित्तौड़गढ़ में सर्व समाज की बैठक में क्षेत्रीय समाज की महिलाएं काफी संख्या में शामिल हुर्इं. सूत्रों के मुताबिक जौहर स्मृति संस्थान के जनरल सेक्रेटरी कण सिंह ने कहा कि मूवी की रिलीज पर रोक नहीं लगी तो इससे जुड़े सभी लोगों को फांसी पर चढ़ा देंगे.
करणी सेना के प्रवक्ता वीरेंद्र सिंह ने बताया कि बोर्ड का अध्यक्ष 16 जनवरी को पीएम मोदी से मिलेगा. हम उनसे भी फिल्म पर रोक लगाने की मांग करेंगे. इन सभी विरोधों के बावजूद फिल्म की रिलीज पर रोक नहीं लगेगी तो महिलाएं उसी जगह जौहर करेंगी, जहां रानी पद्मिनी ने किया था.
श्री राजपूत करणी सेना के संरक्षक लोकेन्द्र सिंह कालवी ने बताया कि करणी सेना ने पहले 25 और 26 जनवरी को भारत बंद की योजना बनाई थी, लेकिन इस दिन गणतंत्र दिवस होने के कारण अब स्‍थगित कर दी गई है. अब आंदोलन 17 जनवरी से ही शुरू होगा.

About Author

सुभाष बगड़िया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *