January 23, 2022
विशेष

आज तक के मंच पर अपनी qualification बताने के चक्कर मे झूठ बोल गए संबित पात्रा..

आज तक के मंच पर अपनी qualification बताने के चक्कर मे झूठ बोल गए संबित पात्रा..

इंडिया टुडे के शो एजेंडा आज तक में BJP प्रवक्ता संबित पात्रा और congeess नेता कन्हैया कुमार के बीच तीखी बहस चली। मुद्दा राष्ट्र या राष्ट्रवाद था, जो खिसकर एक दूसरे की क्वालिफिकेशन तक आ गया। वैसे ऐसा होता है कि जब जवाब न बने तो मुद्दा ही भटका दों। शो में कन्हैया कुमार ने संबित पात्रा से सवाल किया कि, उन्हें ITBC का चेयरमैन क्यों बना दिया गया। जिस पर संबित पात्रा आगबबूला हो गए और चलते शो में अपनी क्वालिफिकेशन गिनाने लगे।
क्या था पूरा मामला जानिए..

संबित पात्रा को ITDC का चेयरमैन क्यों बनाया गया ?

आज तक के शो में कन्हैया कुमार ने सवाल किया कि संबित पात्रा को भारतीय पर्यटन विकास निगम (ITDC) का चेयरमैन क्यों बना दिया गया। उन्होंने आगे कहा कि, इनका काम यही है रोज़ जाकर मुर्गा लड़ते हैं और उसी की वजह से इन्हें चेयरमैन का पद मिला है।

YouTube screenshot

कन्हैया ने ये भी कहा कि ये नीतिगत सवाल है कि पात्रा को कॉर्पोरेशन का चेयरमैन क्यों बना दिया गया। संबित के डॉक्टरी के पेशे पर भी तंज कसते हुए कन्हैया ने पूछा कि अगर आप डॉक्टर है तो आपका क्लिनिक कहा है?

संबित पात्रा ने मंच से बताई अपनी क्वालिफिकेशन :

कन्हैया कुमार के सवालों पर आगबबूला होते हुए संबित पात्रा ने मंच से ही अपनी क्वालिफिकेशन बताना शुरू कर दिया। पात्रा ने कहा, ” UPA सरकार में 2000 के बैच में उन्होंने ऑल ओवर इंडिया 19वां स्थान प्राप्त किया था। उस समय UPA की सरकार थी न कि BJP की जो घुसा दिया था।” लेकिन इतिहास और किताबें कहती हैं कि 1998 से 2004 तक अटल बिहारी की सरकार थी। वो UPA में कब आए ये किसी को नहीं पता।

 

YouTube screen shot


संबित ने आगे कहा, उन्होंने मेडिसिन में MBBS किया है। उन्होंने MS और MRCS की पढ़ाई भी की है। कन्हैया कुमार पर तंज कसने के मौके संबित ने नहीं छोड़ा, कहा कि कुछ लोग ऐसे भी है जो हमारी सरकार के पैसे पर 50 -50 साल थीसिस लिखते रहते हैं। ITDC के चेयरमैन बनने पर संबित ने कहा, की उनसे पहले शंकर सिंह वाघेला ITDC कब चेयरमैन थे और मैं उनसे ज़्यादा पढ़ा लिखा हूँ।

राष्ट्रवाद पर साधा निशाना :

इस बीच संबित ने ये भी कहा, की हम पढ़े लिखे लोग हैं और अपने व्यवहार से हमने परिचय दिया है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर वार करते हुए कहा, की उनकी क्वालिफिकेशन प्रधानमंत्री पद के लायक नहीं हैं।

हालांकि, इस बीच कन्हैया कुमार ने भी गृह मंत्री अमित शाह को निकम्मा करार दिया। उन्होंने कहा, की 2016 से गृह मंत्री यही बात करता आ रहा है। संबित अगर डॉक्टर हैं तो कोरोना काल में अपनी डिग्री लेकर कहाँ चले गाए थे। नज़र क्यों नहीं आ रहे थे। इसका जवाब दीजिए।


दूसरी और संबित में कहा, की संविधान में नहीं लिखा कि राष्ट्रवाद क्या है और कैसा होना चाहिए। लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो इसका ये मतलब नहीं कि “भारत तेरे टुकड़े होंगे इंशाह अल्लाह इंशाह अल्लाह के नारे लगाए जाएंगे” ,शरजील इमाम जैसे लोग देश को तोड़ने की बात करेंगे तो जेल जाएंगे।


ट्विटर पर प्रतिक्रिया :

आज तक पर संबित पात्रा और कन्हैया कुमार की इस बहस को ट्विटर पर शेयर कर मैसेज लिखे जा रहे हैं। न्यूज़ 24 के एंकर साक्षी जोशी ने संबित पात्रा की वीडियो ट्वीट करते हुए शो में संबित पात्रा के दिये हुए एक स्टेटमेंट को लिखा, “UPSC का मैं 2000 बैच का 19th Rank holder हूँ, उस समय UPA की सरकार थी, कोई BJP की सरकार नहीं थी कि मुझे घुसा दिया गया था। और उनसे पूछा कि अटल बिहारी जी की सरकार कब थी ?

यतेंद्र कुमार नाम के एक यूज़र ने लिखा, ” जिन लोगो को अपनी सरकारें कब कब बनी थी वह मालूम नहीं है तो उन्होंने कैसे क्वालीफाई किया होगा UPSC. इनकी डिग्री में भी लोचा रहा होगा।

मंजुल नाम का यूज़र लिखा था, “संबित पात्रा जी ने बताया कि उन्होंने कितनी पढ़ाई लिखाई की है। फिर कन्हैया कुमार पर तंज कसा कि वो सालों पीएचडी करके टैक्स पेयर का पैसा बर्बाद कर रहे थे। टैक्स पेयर का पैसा तो डॉक्टरी में भी लगा था और टीवी बहसों में समय बर्बाद करके पात्रा जी उस पैसे का सदुपयोग तो हरगिज नहीं कर रहे।”

एजेंडा आज तक कि अपनी एक क्लिप शेयर करते हुए कन्हैया कुमार ने ट्वीट किया। लिखा, “आज़ादी के आंदोलन में संघियों ने देश के साथ ग़द्दारी की थी, आज़ादी के बाद देश के संवैधानिक मूल्यों के साथ ग़द्दारी कर रहे हैं।”

About Author

Sushma Tomar