मध्य प्रदेश में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है.यहां एक मां ने अपनी एक साल की बच्ची के गले को धारदार हथियार से काट दिया. एक साल की मासूम बच्ची  को उसी की मां निर्दयतापूर्वक हत्या कर सकती है यह कोई कल्पना भी नहीं कर सकता है. जिस मां को बच्ची को दूध पिलाने में ममता का एहसास होता है वही मां दुधमुंही बच्ची से केवल इसीलिए नाराज हो जाए कि वह रो रही है.

क्या है मामला

घटना मध्यप्रदेश के धार जिले के कुक्षी थाना क्षेत्र के तलवाड़ी पटेलपुरा की है.घटना को बुधवार दोपहर तकरीबन  2.30 बजे अंजाम दिया गया. पुलिस अधिकारी के अनुसार मां की पहचान अनीता के तौर पर हुई है.अनीता ने अपनी बेटी को इसलिए मार दिया क्योंकि वह लगातार दूध के लिए रो रही थी. घटना के दौरान घर में मां के अलावा कोई और मौजूद नहीं था.
कुक्षी थाना प्रभारी सीबी सिंह ने बताया कि घटना के वक्त पति दलसिंह कुक्षी गया था.अनिता की बड़ी बेटी है जो दादी के साथ खेत पर गई थी.करीब 10 फीट दूर ही झूले पर काकी सास रंगाबाई झूल रही थी. उसे अंदाजा नहीं था कि अनिता इतनी बड़ी घटना को अंजाम देगी. क्योंकि उसकी चार साल की एक बेटी है. बच्ची के अचानक रोने की आवाज से शंका हुई थी, लेकिन चुप हो गई तो लगा मां ने चुप कर दिया होगा.
पुलिस के अनुसार घटना को अंजाम देने के बाद अनीता रिश्तेदार के घर चली गई थी. बच्ची के बिना घर को बंद करते समय जब पड़ोसियों ने उसे देखा तो उन्हें मां पर शक हुआ. स्थानीय नागरिकों की मदद से पड़ोसी ने जब घर का दरवाजा तोड़ा तो वह खून से लथपथ बच्ची के शव को देखकर हैरान रह गए. बच्ची की बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

महिला को पकड़ा, हथियार बरामद

“हत्या में इस्तेमाल हथियार दराता बरामद कर लिया है.अनिता को भी पकड़ लिया है. चेहरा देखकर तो पछतावे जैसी बात सामने नहीं आ रही है. घर वालों ने बताया कि घर में सभी से कम बात करती थी.”
-सीबी सिंह, थाना प्रभारी कुक्षी

रोने पर मां की ममता और भी बढ़ जाती है और ऐसे में बच्चे के लिए स्नेह बढ़ता है, लेकिन कुक्षी क्षेत्र में आरोपी अनीता ने अपनी बच्ची के साथ जो किया वह परिस्थिति के विपरीत है.

 

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *