मुंबई: सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक़ कल ( 8 मार्च 2019 ) को महाराष्ट्र, झारखंड और हरियाणा की विधानसभाएँ भंग हो सकती हैं. ऐसा बताया जा रहा है, कि पुलवामा अटैक के बाद हुई एयर स्ट्राईक से जो माहौल बना है, उसे भारतीय जनता पार्टी विधानसभा चुनावों में भी कैश करना चाहती है. ये अलग बात है, कि चुनाव आयोग लोकसभा के साथ विधानसभा के मध्यावधि चुनाव कराने के लिए तैयार होता है या नहीं. ज्ञात होकी तीनों राज्यों में विधानसभा का कार्यकाल पूरा होने में अभी 1 वर्ष बाकी है.

जहाँ तक महाराष्ट्र का मामला है, तो मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस की शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ आज मीटिंग हुई है. ये अनुमान लगाया जा रहा है, कि इस मीटिंग में विधानसभा भंग करने और चुनाव की ओर जाने पर चर्चा हुई है.

कल दोपहर 3 बजे महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्रियों की मीटिंग है, सूत्रों की मानें तो इसी मीटिंग में यह साफ़ होगा कि फड़नवीस सरकार 5 साल पूरे करेगी या फिर महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव होंगे.

यदि इन तीनों राज्यों में सरकारें भंग हो जाती हैं, और तीनों ही राज्य में विधानसभा के मध्यावधि चुनाव होते हैं, तो यह देखना दिलचस्प होगा कि इन राज्यों में मोदी मैजिक चलेगा या नहीं. अर्थात जो चुनाव के परिणाम होंगे, वो वापस भाजपा को सत्ता में ला पाएंगे या नहीं?