January 23, 2022
Lifestyle

सर्दियों में हेल्दी और खुश रहना है, तो ये टिप्स आज़माकर देखिए..

सर्दियों में हेल्दी और खुश रहना है, तो ये टिप्स आज़माकर देखिए..

सर्दियों का मौसम शुरू हो चुका है और सर्दी ज़ुकाम का भी। बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हें सर्दियां शुरू होते ही बहुत सी दिक्कतें शुरू हो जाती है। तबियत नासाज़ रहती है और कड़कड़ाती ठंड फिटनेस पर ध्यान नहीं देने देती। वैसे सर्दियों का मौसम एनर्जेटिक कहा जाता है लेकिन कुछ मामलों में ये सबसे आलास भरा भी होता है। आलास भरा इसलिए क्योंकि रज़ाई से निकलने का मन ही नहीं होता।

लेकिन इस सीज़न में अगर आप अपनी लाइफस्टाइल में छोटे मोटे बदलाव करेंगे तो यकीनन आप खुश रहेंगे और आपका शरीर अंदर से तंदुरुस्त भी। तो फिकर नॉट क्योंकि आज हम आपको बताने वाले हैं वो टिप्स, जो आपको हेल्थी, एनर्जेटिक और खुश रहने में मदद करेंगे।


क्या खाएं और क्या ना खाएं :

सर्दियों का मौसम जब भी शुरू होता है अपने साथ बीमारियों की दस्तक लेकर आता है। ऐसे में सर्दी ज़ुकाम और खांसी होना नार्मल सी बात है। लेकिन आप सुरक्षा कर सकते हैं, बशर्ते आप अपने खान पान में थोड़ा सा बदलाव कर लें तो…

तस्वीर : गूगल

सब्ज़ी, फल और ड्राईफ्रूट भर भर कर खाएं, इससे आपकी इम्युनिटी बढ़ेगी और किसी भी संक्रमण से आपका बचाव करेंगी। डॉक्टर्स भी कहते हैं की, सर्दियों में ओमेगा 3 और फैटी एसिड की भरपूर डाइट लेनी चाहिए। इसमें आप अख़रोट, बादाम, अलसी और फैटी फिश खा सकते हैं।

हरि सब्ज़ी और फ़ल अच्छी मात्रा में ले इससे आपके शरीर मे विटामिन्स और फाइबर की कमी नहीं होगी।
यूं तो हर सब्ज़ी और फ़ल शरीर मे कोई न कोई योगदान देता ही है लेकिन विटामिन्स A, B और विटामिन्स C बेहद ज़रूरी होता है। इसलिए ऐसी चीज़ें ज़रूर खाए जिनसे विटामिन्स A,B और C मिले।

विंटर सीज़न में बार बार खाने से बचे वहीं चिप्स और चॉकलेट जैसी चीज कम से कम खाए।

किन सब्ज़ियों और फलों में होता है विटामिन्स A, B और C :

विटामिन A ज़्यादातर उन सब्ज़ी या फलों में होता है जो लाल, पीले और हरे रंग के होते हैं। इसलिए आप सब्ज़ियों में हरी सब्जियां जिनमे पालक, गाजर, रेड पेपर और स्वीट पटेटो खा सकते हैं। वहीं फलों में आम, पपीता और apricots खा सकते हैं।

विटामिन B के लिए दूध, चीज़, अंडे, मीट, मछली और हरी सब्जियां ले सकते हैं। वहीं विटामिन C इम्युनिटी तेज़ी से बूष्ट करता है, इसमें वो चीज़े शामिल होती है जिनका स्वाद खट्टा होता है। जैसे नींबू, संतरा, मौसमी, आंवला आदि।

तस्वीर गूगल


आपने ये बात डॉक्टरों के मुहँ से भी कई बार सुनी होगी कि पानी भरपूर मात्रा में पिये, दिन में करीब 8 गिलास पानी तो पिये ही। ऐसा डॉक्टर इसलिए कहते हैं क्योंकि विंटर सीज़न में पानी का सेवन कम हो जाता है जिससे हमारी बॉडी में पानी की कमी हो जाती है। लेकिन कोई भी मौसम हो शरीर के लिए सही मात्रा में पानी बेहद जरूरी होता है। इसके अलावा सूप और हर्बल चाय पीने के भी अपने ही फ़ायदे हैं।


व्यायाम हैं ज़रूरी :

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो व्यायाम की अहमियत तो जानते हैं लेकिन व्यायाम कर नहीं पाते। ऐसे लोगों के लिए कुछ सलाह हैं…

इंडियाना यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ ब्लूमिंगटन में एक व्यायाम मनोवैज्ञानिक और प्रोफेसर “जैक रैगलीन” ने टुडे वेबसाइट को व्यायाम से जुड़ी कुछ बातें बताई। उन्होंने कहा, मौसम वास्तव में व्यायाम के लिए विघटनकारी हो सकता है।

तस्वीर गूगल

उन्होंने कहा, की तापमान कम होने पर शारिरिक गतिविधियों का स्तर कम होने लगते हैं। ऐसे में व्यक्ति को चाहिए कि वो एक्सरसाइज के लिए एक साथी या समूह की तलाश करें, इससे उसपर सामाजिक दबाव पड़ेगा। मानसिक स्वास्थ्य लाभों पर ध्यान दें। ज़्यादा एक्सरसाइज नहीं कर सकते तो थोड़ी करें। स्विमिंग करें और सुबह के अलार्म को ऑप्टिमाइज़ करें।

रोज़ सुबह और शाम पैदल चले, इससे मांशपेशियों में खून का प्रवाह सही से होगा। दिल तंदुरुस्त रहेगा, फीलिंग अच्छी होगी, मन खुश रहेगा और आप भी हमेशा तंदुरुस्त रहेंगे। इसके अलावा योगा भी सेहत के लिए काफ़ी ज़रूरी है। मोरल ऑफ दी आर्टिकल, सेहतमंद रहना है तो सेहत को संभालना होगा। बाकी आपकी मर्जी….।


About Author

Sushma Tomar