राजनीति

राहुल गांधी ने Bjp और RSS पर कश्मीर की संस्कृति तोड़ने का लगाया आरोप

राहुल गांधी ने Bjp और RSS पर कश्मीर की संस्कृति तोड़ने का लगाया आरोप

कांग्रेस(congress) सांसद राहुल गांधी (rahul gandhi) बीते दिनो जम्मू कश्मीर में दो दिवसीय दौरे पर थे। राहुल यहां कार्यकर्ता सम्मेलन के लिए पहुंचे थे। इस सम्मेलन में उन्होंने कश्मीरी पंडितों पर बात करते हुए बीजेपी (bjp) पर निशाना साधा। साथ ही  पैदल यात्रा कर वैष्णों देवी के मंदिर दर्शन करने पहुंचे।

यह दौरा बीते सालों में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद राहुल गांधी का पहला दौरा था। हालांकि पिछले महीने राहुल जम्मू गए थे, लेकिन उस समय वह जम्मू में केवल कांग्रेस के उद्घाटन के लिए ही गए थे। 


“कश्मीर आकर लगता है जैसे घर आया हूँ”- राहुल गांधी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार को हुए कार्यकर्ता सम्मेलन में राहुल ने सबसे पहले “जय माता दी” का जयघोष किया। जिससे का उत्साह बढ़ाया जा सके। इसके बाद राहुल ने कहा कि इस एक महीने में, मैं दो बार कश्मीर आया हूँ। पिछली बार श्रीनगर में मैने कहा था कि जब मैं कश्मीर आता हूँ तो ऐसा लगता है कि अपने घर आ गया हूँ। राहुल ने अपनी बात की शुरुआत ‘मित्रों’ के संबोधन से की थी। गौरतलब है कि मित्रों शब्द से उन्होंने पीएम मोदी पर निशाना साधा था।


मैं भी कश्मीरी पंडित हूँ, मेरा कश्मीर से पुराना नाता है:

राहुल ने आगे कहा कि “मेरा परिवार भी कश्मीरी पंडित है। मैं भी कश्मीरी पंडित हूँ। और मेरा कश्मीर से पुराना नाता है। राहुल ने बताया कि कश्मीर में उनसे मिलने कुछ कश्मीरी पंडित आए थे। उन्होंने बताया कि भाजपा ने उनको छला है। जो वादे उनसे किये थे उन्हें अभी तक पूरा नहीं किया गया है। राहुल ने कश्मीरी पंडितों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि वो उनकी मदद करेंगे।”

राहुल आगे कहतें है बीजीपी ने कश्मीरी पंडितों को 25 लाख का मुआवजा देने का वादा किया था जिसे अभी तक पूरा नहीं किया गया। लेकिन यह जानना भी ज़रूरी है कि इस मुआवजे की घोषणा कांग्रेस ने ही की थी।


कश्मीर की एकता और भाईचारा खत्म कर रही बीजेपी:

सम्मेलन में बीजेपी (bjp) और आरएसएस (RRS) पर बात करते हुए राहुल कहते हैं कि बीजेपी और आरएसएस ने जम्मू कश्मीर की एकता, भाईचारे और प्यार को खत्म कर दिया है।

वहीं अब जम्मू कश्मीर की संस्कृति को तोड़ने का काम कर रही है। हालांकि उनके इस बयान पर बीजेपी ने पलटवार भी किया। बीजेपी नेशनल प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि जम्मू कश्मीर के सभी विवादित मुद्दे कांग्रेस की विरासत है।

संबित यहीं नहीं रुकें उन्होंने एक बार फिर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी को “अपरिपक्व” और “गैर-जिम्मेदार” बताया। कश्मीर की सभी समस्याओं का जिम्मेदार नेहरू के बताते हुए संबित ने कहा, कश्मीरी पंडितों के संकट का कारण कांग्रेस और उसकी जैसी समान विचारधारा वाले दलों की तुष्टिकरण की राजनीति है। इन्होंने अपने वोट बैंक के लिए न केवल कश्मीरी पंडितों की बलि दी, बल्कि क्षेत्र के विकास को भी दांव पर लगाया।


माता वैष्णो देवी के किये दर्शन

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के हवाले से, जम्मू-कश्मीर जाकर राहुल ने 13 किलोमीटर पैदल चलकर माता वैष्णोदेवी के दर्शन किये। साथ ही मंदिर में पूजा अर्चना भी की। इस दौरन आम जनता ने राहुल को खुद के बीच पाते हुए सेल्फ़ी भी खिंचवाई। बता दें कि पिछली बार राहुल ने कश्मीर घाटी गांदरबल में प्रसिद्ध मंदिर खीरभवानी में भी पूजा अर्चना की थी। वहीं राहुल ने आने वाले दिनों में लद्दाख जाने की इच्छा भी ज़ाहिर की।

About Author

Sushma Tomar