कोरोना के नाम पर विमानन कम्पनियो ने, ख़ास कर के एयरइंडिया ने लूट मचा दी है। नवभारत टाइम्म्स की खबर है कि देशभर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच घरेलू मार्गों पर विमानन कंपनियां यात्रियों से मनमाना किराया वसूल कर रही हैं। जानलेवा संक्रमण के कारण मची अफरा-तफरी में लोग या तो अपना टिकट कैंसल करा रहे हैं या फिर संक्रमण प्रभावित राज्यों से अपने प्रदेश लौट रहे हैं। ऐसे में विमानन कंपनियों ने न सिर्फ विमानों का किराया बढ़ा दिया है, बल्कि भारी-भरकम कैंसलेशन चार्ज भी वसूला जा रहा है। हालात यह है कि दिल्ली से पटना का किराया 37,000 रुपये तक पहुंच गया है।

DGCA ने कोरोनावायरस महामारी को देखते हुए विमानन कंपनियों से टिकट रद्द करने और यात्रा तारीख में बदलाव को लेकर लगने वाले शुल्क को माफ करने या अन्य कोई प्रोत्साहन देने पर विचार करने को कहा है। लेकिन एयर इंडिया ही सुनंने को तैयार नहीं है, भाई हेमंत मालवीय ने कश्मीर टूर की टिकटे 2 महीने पहले ही करा लीं थी। अब उसे वो रीशेडूअल करा रहे हैं। लेकिन जहा अन्य सभी एयरलाइंस की खिड़कियां खुली हैं, वही इंदौर एयरपोर्ट पे एयर इंडिया के काउंटर पर क्लोज की पट्टी रखी हुई हैं। काउंटर गेट पे ताला है, रिशेड्यूल करने पे जहा इंडिगो 1500 का चार्ज ही बता रही है, वही वापसी की फ्लाइट की डेट का 4 लोगो का किराया एयर इंडिया 54000 बता रही है। जबकि उसी डेट में इंडिगो के 4 टिकिट 13000 में ही मिल रहे हैं, साफ है कि एयर इंडिया ने इस मौके को लूटने के लिए बखूबी भुनाया है।

उनका कहना है कि किसी तरह का सर्कुलर अब तक किसी एयरलाइन के पास आया नही है। आज अगर वो अपने कश्मीर टूर के 44000 के टिकट कैंसल करते हैं। तो सब काट पिट के सिर्फ 4000 रुपये वापस मिलेंगे, हमारे जैसे लाखो लोग चक्कर खा रहे हैं, फोन लगा रहे हैं, तो घन्टो फोन नही लग रहे। सब डिजीटल है फिर भी सब परेशान हो रहे हैं। उनका कहना है कि उनके टिकिट इज मॉइ ट्रिप से खरीदे गए हैं, सो एयर इंडिया के हिसाब से कैंसल या रिशेड्यूल वही कर सकता है।  इंडिगो यहा फिर भी काफी मददगार है, वो 1500 लेकर कर तो रही हैं, इज मॉइ ट्रिप पे 25 मिनिट काल इंगेज रखने के बाद जब काल लगाया गया तो वह भी कहता है, कि पेपर में छपे पूरे पैसे वापस करने की ग्यारंटी नही है। अगर एयरलाइंस देगी तो ही हम आपको दे पाएंगे, उसके पास भी कोई सर्कुलर नही आया है।

ये करोना के बहाने जो अंधी लूट मची है, इससे मोदी सरकार उड्डयन मंत्री को कोई सरोकार होगा। ऐसा सोचना भी मजाक लगता है, हर तरफ से खबरे है कि जब दूसरी एयर लाइन मौके की नजाकत को समंझ रही हैं। इस सिचुएशन का फायदा एयर इंडिया बड़ी बेदर्दी से उठा रही है।

नवभारत टाइम्स की यह खबर उनकी बात की पुष्टि कर रही है इस खबर के अनुसार 20 मार्च को आप नई दिल्ली से पटना जाना चाह रहे हैं तो गोएयर आपको न्यूनतम 4,416 रुपये में टिकट उपलब्ध करा रही है, जबकि स्पाइसजेट 5,106 रुपये इंडिगो 5,145 रुपये और एयर इंडिया 7,219 रुपये में टिकट बेच रही है, जबकि एयर इंडिया अधिकतम किराया 37 हजार रुपये वसूल रही है।