गालियों के साथ साथ कह रहे थे “मुल्ले ले तुझे आज़ादी दे देता हूँ”

 गालियों के साथ साथ कह रहे थे “मुल्ले ले तुझे आज़ादी दे देता हूँ”

देश मे चल रहे हालात ने नींद उड़ा दी है, सिर्फ एक ही बात बार बार सामने जाती है।  आखिर और कितना ? घरो में घुस कर महिलाओ पर हमला आख़िर मासूम बच्चों पर इसका क्या असर पड़ेगा, आखिर बच्चों के दिमाग मे पुलिस की छवि कैसी बनेगी, क्या हमारे वतन का भविष्य उज्वल हो […]

Read More
 नज़रिया – यूनिवर्सिटी छात्रों से मारपीट के क्या मायने हैं?

नज़रिया – यूनिवर्सिटी छात्रों से मारपीट के क्या मायने हैं?

आप सब जानते है कि NRC CAB के नाम से भारत को तोड़ने का काम किया जा रहा है। जब एक तरफ देश ‘भुखमरी,  बेरोजगारी, आर्थिक मंदी से गुज़र रहा है, जब देश मे हो रहे बलात्कारों से हैवान भी कांप रहे हैं। जब हर तरफ त्राहि त्राहि मची है, उस वक़्त सरकार ने आखिर […]

Read More
 ये किस दौर में चले आये हैं हम ?

ये किस दौर में चले आये हैं हम ?

समय बीत जाने के बाद कहा जाता है कि एक दौर था जब ऐसा होता था , एक दौर था जब भाई भाई के लिए जान कुर्बान कर देता था. एक दौर था जब दोस्त दोस्त के लिए जान दे देता था उसी तरह आज का दौर है जो आने वाले दौर में काले अक्षरों […]

Read More