अभी कुछ दिन पहले की ही बात है कि ब्रिटेन में सोशल मीडिया पर नस्लीय हिंसा को बढ़ाने, हेत स्पीच करने और सड़कों पर हेट क्राइम्स करने के आरोप में Britain First नमक उग्र राष्ट्रवादी संगठन के फेसबुक प्रोफाइल्स को डिलीट कर उसके दो पदाधिकारियों को जेल की सजा तक सुनाई गयी थी.

इसके बाद इस नफरती हवा को ठंडा न होने देने के लिए जर्मनी से पेगीडा नमक मुस्लिम विरोधी मुहीम के सरगना लुटस बेकमैन ने ब्रिटेन में आने की कोशिश की जिसे ब्रिटिश सरकार ने नाकाम कर उसे एयरपोर्ट से ही जर्मनी रवाना कर दिया गया.

इसके बाद इसी ब्रिटिश फर्स्ट संगठन से जुड़े लोगों और उसकी विचारधारा से प्रभावित लोगों ने सामानांतर एक और नफरती मुहीम चलाई और उसे Football Lads Alliance (FLA) का नाम दिया गया, और अपनी एक रैली निकाली जिसे उन्होंने ‘बर्मिघम में इस्लामी आतंकवादियों’ के खिलाफ बताया.

FLA के इस उकसाऊ और भड़काऊ क़दम से लंदन फिर से एक हो गया, खासकर बर्मिघम के लोग और ब्रिटिश नागरिक तथा स्थानीय मेंबर ऑफ़ पार्लियामेंट सभी ने मिलकर FLA की उस रैली के खिलाफ ‘ Birmingham United anti-racist event’ और ‘Stand up For Birmingham, रैली निकाल कर इस्लामोफोबिया को ना कहने सांप्रदायिक सौहार्द को मज़बूत रखने का प्रण लिया.

Source – Aljazeera