October 29, 2020

पटना |

राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की गैर-मौजूदगी में रविवार को उनके बेटे तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) ने पहली बार पटना में बड़ी रैली की। इसके बाद तेजस्‍वी ने ‘युवा क्रांति रथ’ (Yuva Kranti Rath) पर अपनी ‘बेरोजगारी हटाओ यात्रा’ (Berojgari Hatao Yatra) की शुरुआत की।

इस यात्रा के माध्‍यम से तेजस्‍वी ने 2020 के विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 20220) का भी शंखनाद किया। तेजस्‍वी ने मुख्‍यमंत्री (CM) नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर तंज कसा कि वे युवाओं को रोजगार दिलाने के बदले अपना रोजगार बचाने में जुटे हैं।

खास बात यह रही कि आरजेडी की रैली के मंच पर लगाए गए पोस्‍टरों से तेजस्‍वी यादव की बहन मीसा भारती (Misa Bharti) तथा बड़े भाई तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) गायब रहे। मंच पर केवल लालू-राबड़ी (Lalu_Rabri) व तेजस्‍वी की तस्‍वीरें दिखीं। हां, तेज प्रताप यादव रथ में तेजस्‍वी के साथ यात्रा पर निकले हैं।

विरोधियों को दिखाई ताकत

तेजस्‍वी ने रविवार को पटना के वेटनरी कॉलेज ग्राउंड में आयोजित रैली के साथ अपनी बेरोजगारी हटाओ यात्रा का आरंभ किया। इस रैली व यात्रा को आरजेडी का चुनावी शंखनाद माना जा रहा है। रैली के माध्‍यम से तेजस्वी ने एक ओर विरोधियों को ताकत दिखाई, वहीं दूसरी ओर पोस्टरों के माध्‍यम से आरजेडी ने पार्टी व महागठबंधन में यह संदेश भी दिया कि आगामी विधानसभा चुनाव में तेजस्वी ही चेहरा हैं।

Avatar
About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *