“हम साथ-साथ हैं” और “दिल चाहता है” जैसी फिल्मों से दर्शकों के दिलो पर छाप छोड़ने वाले अभिनेता सैफ़ अली खान इस साल (16 अगस्त) अपना 51 वां जन्मदिन मना रहे है। जन्मदिन सेलेब्रेशन के लिए फिलहाल पूरी फैमिली मालदीव में हैं। मालदीव से करीना ने अपने और सैफ़ की रोमांटिक फ़ोटो के साथ अपनी पूरी फैमिली की तस्वीर  फ़ोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की है। आज सैफ़ अली खान के जन्मदिन पर हम आपको उनकी प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ से जुड़ी कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं- 

पटौदी के 10वें नवाब हैं सैफ़

सैफ़ अली खान का जन्म 16 अगस्त 1970 को देश की राजधानी दिल्ली में हुआ था।सैफ़ की माता शर्मिला टैगोर बॉलीवुड की जानी मानी अदाकारा हैं, वहीं पिता (late) मंसूर अली खान अपने दौर में भारतीय क्रिकेट टीम के फेमस कप्तान रह चुके हैं।

सैफ़ नवाबो के पटौदी खानदान से ताल्लुक रखते हैं। पिता मंसूर पटौदी खानदान के 9वे नवाब थे। वहीं 2011 में पिता की मृत्यु के बाद हरियाणा में पगड़ी रस्म कर सैफ़ अली खान को पटौदी खानदान के 10वे नवाब के तौर पर स्थापित किया गया।

प्रोजेक्ट नहीं बना तो मुंबई आकर एक्टिंग करने लगे

फ़िल्मो में आने से पहले सैफ़ ने दिल्ली में एक विज्ञापन फर्म के साथ काम किया था। फैमिली फ्रैंड के कहने पर एक विज्ञापन की शूटिंग के लिए ग्वालियर चले गए। जहाँ निर्देशक आनंद मेहरा ने उन्हें एक प्रोजेक्ट के लिए कास्ट किया, पर यह प्रोजेक्ट कभी बन नहीं पाया।  लेकिन तब तक सैफ़ ने मुम्बई आकर खुद को एक्टिंग में आज़माने का मन बना लिया था।

1991 में राहुल रवैल की बेखुदी में मिला पहला चांस सैफ़ को अनप्रोफेशनल होने के कारण गवाना पड़ा। इसके बाद 1993 में यश चोपड़ा के टीवी शो परंपरा में काम किया।हालांकि, उन्हें पहचान 1994 में आई फ़िल्म “ये दिल्लगी” और ” मैं खिलाड़ी,तू अनाड़ी” से मिली।

इन फिल्मों में किया है काम

सैफ़ ने “हम साथ साथ हैं”, “लव आज कल”, “कल हो न हो”, “दिल चाहता है”, “क्या कहना”, “थोड़ा प्यार थोड़ा मैजिक”, “रंगून”, “एलओसी:कारगिल”, “परिणीता”, “आरक्षण”, “रहना है तेरे दिल में” जैसी फिल्मों में काम किया है।  ओमकारा, तनाहजी, और लाल कप्तान जैसी फिल्मों में उनके किरदार को दर्शकों ने खूब पसंद किया, इसके साथ ही ओटीटी प्लैटफॉर्म पर आई वेब सीरीज़ तांडव में सैफ़ ने इंट्रेस्टिंग, सस्पेंस से भरपूर रोल अदा किया था। 

दूसरी और सैफ़ के आने वाले प्रोजेक्ट में बंटी और बबली 2, आदि पुरुष और भूत पुलिस शामिल हैं। सैफ़ को सात फिल्मफेयर अवार्ड मिल चुके हैं, वहीं 2010 में उन्हें पद्मश्री से भी नवाज़ा गया था। इसके अलावा सैफ को “कल हो न हो” के लिए बेस्ट स्पोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड भी मिला है।

खुद से 12 साल बड़ी लड़की से की थी शादी

सैफ़ और अमृता फ़िल्म बेखुदी की शूटिंग के दौरान मिले थे, जिसके बाद दोनों ने शादी का फैसला लिया। 1991 में सैफ़ अली खान ने खुद से 12 साल बड़ी अभिनेत्री अमृता सेन से शादी की। दोनों के दो बच्चे बेटा इब्राहिम अली खान और बेटी सारा अली खान हैं। हालांकि, 2004 में दोनों एक दूसरे से अलग हो गए।

करीना से शादी के दिन अमृता को लिखी थी चिठ्ठी

करीना कपूर के साथ एक लंबे लिवइन रिलेशन के बाद  2012 में दोनों ने कोर्ट मैरिज की। दोनों की उम्र में 10 साल का अंतर हैं। करीना ने 2016 में पहला बेटा तैमूर और बीती फरवरी में दूसरे बेटे जेह (जहाँगीर) को जन्म दिया।

न्यूज़ 18 के एक आर्टिकल के मुताबिक करीना से शादी वाले दिन सैफ़ ने पहली बीवी अमृता को चिठ्ठी लिखी थी। जिसमें दोनों के लिए लाइफ में आगे बढ़ने की बात लिखी थी। करीना के साथ सैफ़ ने कुर्बान,एजेंट विनोद,दिल चांस मारे फिल्में की हैं।

इन मामलों को लेकर रहे हैं सुर्खियों में

सैफ़ अली खान का विवादों से पुराना नाता हैं। करीना से दूसरी शादी के दौरान सैफ़ और करीना ने खूब सुर्खियां बटोरी थीं। बड़े बेटे तैमूर आर अब छोटे बेटे जहाँगीर के नाम को लेकर भी खासा विवाद हुआ था, इतना ही नहीं दोनों को सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल भी किया गया है। वेब सीरीज़ तांडव को लेकर भी सैफ़ विवादों में आ चुके हैं।

About Author

Sushma Tomar