उत्तरप्रदेश में शासन और प्रशासन द्वारा फ़र्ज़ी एनकाउंटर की होती अनदेखी

उत्तरप्रदेश में शासन और प्रशासन द्वारा फ़र्ज़ी एनकाउंटर की होती अनदेखी

बीते कुछ दिनों में आपने देखा होगा कि उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक राह चलती गाड़ी में बैठे बेकसूर लड़के को पुलिस वालों ने गोली मार दी, जिसका नाम था विवेक तिवारी! विवेक की इसमें कोई गलती नहीं थी ना ही वो कोई अपराधी था और ना ही आतंकी, उसकी गलती सिर्फ यह थी […]

Read More
 कल्पना तिवारी की चीत्कार में नौशाद और मुस्तकीम की मां की चीत्कार शामिल क्यों नहीं है?

कल्पना तिवारी की चीत्कार में नौशाद और मुस्तकीम की मां की चीत्कार शामिल क्यों नहीं है?

कल दिल्ली जाते हुए सोशल मीडिया से विवेक तिवारी की हत्या का समाचार मिला। ज्यादा जानकारी लेने के लिए एक अखबार की वेबसाइट पर गया तो वहां जाकर दिमाग सुन्न हो गया। खबर का कमेंट बॉक्स उन लोगों से भरा था, जो हत्या को सही ठहरा रहे थे। सोचने लगा कि ये कौन लोग हैं, […]

Read More