व्यक्तिगत स्वतंत्रता और वरवर राव का मुकदमा

व्यक्तिगत स्वतंत्रता और वरवर राव का मुकदमा

आज जब अर्णब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट ने संविधान के अनुच्छेद 142 के अंतर्गत प्राप्त अपने अधिकारों का उपयोग करते हुए, जमानत दी तो एक पुराना मामला याद आया। यह मामला है तेलुगू के कवि और मानवाधिकार कार्यकर्ता वरवर राव का। वरवर राव भी अपने मुक़दमे में जमानत के लिये सुप्रीम कोर्ट गए थे, और […]

Read More
 क्या जब तक आपकी बारी नहीं आएगी, तब तक राजनैतिक क़ैदयों के लिए नहीं बोलेंगे ?

क्या जब तक आपकी बारी नहीं आएगी, तब तक राजनैतिक क़ैदयों के लिए नहीं बोलेंगे ?

खबर आ रही है कि, मुंबई की जेल में बंद, भीमा कोरेगांव कांड के आरोपी, तेलुगु कवि, वरवर राव की तबियत खराब है। यह भी कहा जा रहा है कि वरवर राव को कोरोना पॉजिटिव हो गया है। 80 वर्ष का यह व्यक्ति, एक पंथनिरपेक्ष, समाजवादी, गणतंत्र में जिसमे अभिव्यक्ति से लेकर सम्मानपूर्वक जीने के […]

Read More
 नज़रिया – वरवर राव तो स्वस्थ्य हो जाएँगे, मगर हमारा मस्तिष्क….. ?

नज़रिया – वरवर राव तो स्वस्थ्य हो जाएँगे, मगर हमारा मस्तिष्क….. ?

सुकरात को जब ज़हर का प्याला दिया गया तो उसके इर्द गिर्द बहुत से क़ाबिल लोग बैठे थे । एक से एक कलाकार सुकरात को ज़हर का प्याला होंठ से लगाते देख रहे थे । तमाम राजनीतिज्ञ और कूटनीतिज्ञ खामोशी से ज़हर को सुकरात में उतरते देख रहे थे । वह मानकर चल रहे थे […]

Read More