मुस्लिम समाज, मुशायरे की भीड़ और विकास

मुस्लिम समाज, मुशायरे की भीड़ और विकास

इस कौम को “मुशायरों” ने क्या दिया? क्या दिया इन राजनीतिक मुशायरों ने,जिसकी तैयारीयों में लाखों रुपये खर्च कर ‘माहौल’ बनाया जाता है,और जिस पार्टी का ये मुशायरा है उस पार्टी के ‘नेता’ को सेक्युलर बनाया जाता है,क्यों किसलिए कौम के नाम पर “लाखों” रुपये मुशायरों में फूंकें जातें है? क्या मिलता है इससे मुस्लिमों […]

Read More