जम्मू एवं कश्मीर में BJP व PDP की सरकार के दौरान हुआ 10 हज़ार करोड़ रुपये का हेरफेर

जम्मू एवं कश्मीर में BJP व PDP की सरकार के दौरान हुआ 10 हज़ार करोड़ रुपये का हेरफेर

भारत के नियन्त्रक एवं महालेखापरीक्षक (CAG) की एक रिपोर्ट में कहा गया है, कि जम्मू-कश्मीर में सरकार के कुछ गैर-पारदर्शी खर्चों की वजह से इसके अकाउंट्स की ठीक जानकारी नहीं मिली । सीएजी ने कहा कि उसने 10 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के खर्च के हेरफेर का पता लगाया है। जम्मू-कश्मीर के वित्तीय संचालन […]

Read More
 वो सवाल, जो देवेंदर सिंह की गिरफ़्तारी के बाद उठ रहे हैं

वो सवाल, जो देवेंदर सिंह की गिरफ़्तारी के बाद उठ रहे हैं

दक्षिण कश्मीर के एक इलाके से जम्मूकश्मीर के एक डीएसपी देवेंदर सिंह को अपनी गाड़ी में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के साथ जम्मू जाते हुए गिरफ्तार किया गया था। जिस कश्मीर में कई दशकों से आतंकवाद और आतंकियों के खिलाफ पुलिस सहित सभी सुरक्षा बल एक साझा अभियान चला रहे हैं, उसी दक्षिण कश्मीर […]

Read More
 मीडिया – जम्मू कश्मीर में नौकरी का विज्ञापन, खबर और विज्ञापन का वापस लिया जाना

मीडिया – जम्मू कश्मीर में नौकरी का विज्ञापन, खबर और विज्ञापन का वापस लिया जाना

अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट ने वैकेंसी निकाली। कल के अखबारों में यह खबर प्रमुखता से छपी थी। दैनिक भास्कर में यह पहले पन्ने पर थी। दूसरे अखबारों में भी प्रमुखता से छपी थी। आज टेलीग्राफ में खबर है कि इस विज्ञापन को वापस ले लिया गया है। आज के भास्कर में विज्ञापन […]

Read More
 कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-4) – मिलिटेन्ट और सोशल मीडिया

कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-4) – मिलिटेन्ट और सोशल मीडिया

‘बुरहान वानी को इतना बड़ा हीरो बनाने में सोशल मीडिया की बहुत बड़ी भूमिका है. वो पहला ऐसा मिलिटेंट था जो अपना चेहरा छिपाए बिना वीडियो बनाता था. ये वीडियो बहुत तेज़ी से वायरल होते थे और उसका समर्थन दिनों-दिन बढ़ता जाता था. उसके नाम से कई फ़ेसबुक पेज चलने लगे थे और लोग खुलकर […]

Read More
 कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-3) – उस दिन तो मेरा भी मनोबल डगमगा गया था

कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-3) – उस दिन तो मेरा भी मनोबल डगमगा गया था

( पत्रकार राहुल कोटियाल बीती नौ अगस्त को कश्मीर गए थे. ये वहाँ लगे कर्फ़्यू का पाँचवा दिन था. इस दिन से 20 अगस्त तक वो घाटी में रहे और इस दौरान इनकी कुल छह रिपोर्ट्स न्यूज़लांड्री  में पब्लिश हुई थीं।  राहुल ने आम कश्मीरियों के साथ-साथ उन लोगों से भी बात की जिनके बच्चों […]

Read More
 यूरोप के कट्टर दक्षिणपंथी सांसद करेंगे कश्मीर का दौरा

यूरोप के कट्टर दक्षिणपंथी सांसद करेंगे कश्मीर का दौरा

अगस्त के महीने में कश्मीर से धारा 370 हटाये जाने और सुरक्षा प्रतिबंध लगाये जाने के बाद यूरोपीय 30 यूरोपीय सांसद मंगलवार को कश्मीर का दौरा करेंगे। इनमें से अधिकतर सांसद यूरोप के कट्टर दक्षिणपंथी राजनीतिक पार्टियों के सदस्य हैं। प्रतिबंध लगाये जाने के बाद कश्मीर जाने वाला यह पहला अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडल है। ज्ञात होकि […]

Read More
 कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-2) – हमारा काम तो सिर्फ़ ऑर्डर फ़ॉलो करना है

कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-2) – हमारा काम तो सिर्फ़ ऑर्डर फ़ॉलो करना है

” पत्रकार राहुल कोटियाल बीती नौ अगस्त को कश्मीर गए थे. ये वहाँ लगे कर्फ़्यू का पाँचवा दिन था. इस दिन से 20 अगस्त तक वो घाटी में रहे और इस दौरान इनकी कुल छह रिपोर्ट्स न्यूज़लांड्री  में पब्लिश हुई थीं।  राहुल ने आम कश्मीरियों के साथ-साथ उन लोगों से भी बात की जिनके बच्चों […]

Read More
 कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-1) – जब इंफोरमर ने दिया फ़र्ज़ी इनपुट

कश्मीर: कन्फ़ेशंस ऑफ़ ए कॉप (पार्ट-1) – जब इंफोरमर ने दिया फ़र्ज़ी इनपुट

( पत्रकार Rahul Kotiyal बीती नौ अगस्त को कश्मीर गए थे. ये वहाँ लगे कर्फ़्यू का पाँचवा दिन था. इस दिन से 20 अगस्त तक वो घाटी में रहे और इस दौरान इनकी कुल छह रिपोर्ट्स न्यूज़लांड्री में पब्लिश हुई थीं। राहुल ने आम कश्मीरियों के साथ-साथ उन लोगों से भी बात की जिनके बच्चों को गिरफ़्तार […]

Read More
 फ़िल्म समीक्षा – हैदर के बचपन की कहानी है ” हामिद “

फ़िल्म समीक्षा – हैदर के बचपन की कहानी है ” हामिद “

बचपन उम्र से तय होता है। बचपना कई सवालों की खोज होता है। मनोविज्ञान हमेशा ‘तलाश’ शब्द के इर्द गिर्द घूमती है। जो चीजें समझ नहीं आती बचपन उसके पीछे बेतरतीब हो कर भागता है। एक जवाब ढूंढते ही दूसरे सवाल के जवाब की तलाश में बचपना खोया रहता है। हामिद एक ऐसे कश्मीरी बच्चे […]

Read More
 AFSPA अफस्पा कानून – इतिहास और विवाद

AFSPA अफस्पा कानून – इतिहास और विवाद

कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि ” जम्मू कश्मीर में सशस्त्र बल अधिनियम और अशांत क्षेत्र अधिनियम की समीक्षा की जायेगी।. सुरक्षा की ज़रूरतों और मानवाधिकारों के संरक्षण में संतुलन के लिए कानूनी प्रावधानों में उपयुक्त बदलाव किए जाएंगे। सशस्त्र बलों की तैनाती की समीक्षा करने, घुसपैठ रोकने के लिए सीमा पर अधिक […]

Read More