नज़रिया – मैं संकीर्ण और संघी राष्ट्रवाद का विरोध करता हूँ

नज़रिया – मैं संकीर्ण और संघी राष्ट्रवाद का विरोध करता हूँ

यह उद्धरण पढें। आरएसएस के पूर्व सरसंघचालक और आरएसएस के प्रमुख विचारक जिनकी संघ के राजनीतिक चेहरे भारतीय जनसंघ की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका थी, एमएस गोलवलकर, जो संघ और भाजपा में, गुरु जी के नाम से जाने जाते हैं का एक कथन है। वे कह रहे हैं कि, ” अंग्रेजों से लड़ने में अपनी […]

Read More